e0a485e0a497e0a58de0a4a8e0a4bfe0a4aae0a4a5 e0a495e0a58b e0a4b2e0a587e0a495e0a4b0 e0a4ace0a58be0a4b2e0a587 nsa e0a4a1e0a58be0a4ade0a4be
e0a485e0a497e0a58de0a4a8e0a4bfe0a4aae0a4a5 e0a495e0a58b e0a4b2e0a587e0a495e0a4b0 e0a4ace0a58be0a4b2e0a587 nsa e0a4a1e0a58be0a4ade0a4be 1

नई दिल्ली. देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना पर बड़ा बयान दिया है. न्यूज एजेंसी एएनाई को दिये गए इंटरव्यू में उन्होंने अग्निपथ योजना पर कई सारी बातें कही हैं. उन्होंने कहा कि जो हम कल कर रहे थे अगर वही भविष्य में भी करते रहे तो हम सुरक्षित रहेंगे ये जरूरी नहीं। यदि हमें कल की तैयारी करनी है तो हमें परिवर्तित होना पड़ेगा। आवश्यक इसलिए था क्योंकि भारत में, भारत के चारों तरफ माहौल बदल रहा है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि आज भारत में बनी AK-203 के साथ नई असॉल्ट राइफल को सेना में शामिल किया जा रहा है. यह दुनिया की सबसे अच्छी असॉल्ट राइफल है। सैन्य उपकरणों में बहुत प्रगति की जा रही है.

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कहा कि पिछले 8 सालों में स्ट्रक्चरल सुधार बहुत सारे हुए हैं। 25 साल से CDS का मुद्दा पड़ा हुआ था. राजनीतिक इच्छाशक्ति न होने के कारण इसको अमल में नहीं लाया जा सका था. आज हमारे डिफेंस एजेंसी की अपनी स्पेस की स्वतंत्र एजेंसी है. रेजिमेंट के सिद्धांत के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं होगी, जो रेजिमेंट हैं वे रहेंगी. अकेले अग्निवीर पूरी आर्मी कभी नहीं होंगे, अग्निवीर सिर्फ पहले 4 साल में भर्ती किए गए जवान होंगे. बाकी सेना का बड़ा हिस्सा अनुभवी लोगों का होगा. जो अग्निवीर नियमित होंगे(4 साल बाद) उन्हें घनिष्ठ ट्रेनिंग दी जाएगी. अजीत डोभाल ने इंटरव्यू में कहा कि बदलते समय के साथ सेना में बदलाव जरूरी है. इसे एक नजरिये से देखने की जरूरत है. अग्निपथ अपने आप में एक स्टैंडअलोन योजना नहीं है.

READ More...  भारत ने परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम पृथ्वी-2 मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रात में भी कर सकता है हमला

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : June 21, 2022, 13:47 IST

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)