e0a485e0a4aee0a587e0a4b0e0a4bfe0a495e0a4be e0a4aee0a587e0a482 e0a485e0a4a8e0a4bfe0a4a6e0a58de0a4b0e0a4be e0a4b8e0a587 e0a4b0e0a4be
e0a485e0a4aee0a587e0a4b0e0a4bfe0a495e0a4be e0a4aee0a587e0a482 e0a485e0a4a8e0a4bfe0a4a6e0a58de0a4b0e0a4be e0a4b8e0a587 e0a4b0e0a4be 1

मुंबई: अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में नारकोटिक्स ब्यूरो से क्लीन चिट मिल गई है. लेकिन न्यूज एजेंसी पीटीआई भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक अपनी चार्जशीट में केंद्रीय एजेंसी ने दावा किया है कि आर्यन खान ने स्वयं बताया था कि ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान अमेरिका में उन्हें नींद न आने की समस्या थी और वह सोने के लिए ‘गांजे’ का सेवन करते थे.

उल्लेखनीय है कि पिछले साल अक्टूबर में क्रूज पर छापेमारी और कथित तौर पर मादक पदार्थ की बरामदगी के बाद गिरफ्तार किए गए 20 लोगों में से 14 के खिलाफ एनसीबी ने शुक्रवार को मुंबई की एक अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया. केंद्रीय एजेंसी ने बताया कि सबूत नहीं होने की वजह से आर्यन खान सहित 6 लोगों के नाम आरोप पत्र में शामिल नहीं किए गए.

चार्जशीट में NCB ने किया आर्यन खान के बयान का जिक्र
चार्जशीट के मुताबिक आर्यन खान ने एनसीबी के समक्ष बयान दिया था कि उन्होंने वर्ष 2018 में अमेरिका में स्नातक की पढ़ाई के दौरान गांजा पीना शुरू किया था. एजेंसी के मुताबिक, ‘आर्यन खान ने बताया कि उस समय उन्हें निद्रा संबंधी विकार था और उन्होंने इंटरनेट पर कुछ लेख पढ़े थे जिनमें कहा गया था कि गांजा पीने से इस समस्या से राहत मिलती है.’

एनसीबी ने दावा किया कि एक अन्य बयान में आर्यन खान ने स्वीकार किया था कि अपराध में संलिप्तता के संकेत देने वाले व्हाट्सऐप चैट उनके ही थे. आरोप पत्र के मुताबिक आर्यन ने एजेंसी को बताया कि वह बांद्रा (मुंबई का इलाका) के एक (मादक पदार्थ) डीलर को जानते थे, लेकिन उसका नाम या ठिकाना नहीं जानते, क्योंकि वह उनके दोस्त आचित का जानकार है. आचित इस मामले में सह आरोपी है.

READ More...  झारखंड: ED ने जामताड़ा के साइबर अपराधियों की संपत्ति जब्त की

क्रूज ड्रग्स केस में NCB ने आर्यन खान को क्लीन चिट दी है
उल्लेखनीय है कि इस मामले में एनसीबी ने आर्यन खान को क्लीन चिट देते हुए कहा है कि क्रूज पर छापेमारी के दौरान उनके पास से कोई मादक पदार्थ बरामद नहीं हुआ और न ही कोई ऐसा ठोस सबूत मिला जिससे साबित हो कि उन्होंने अन्य आरोपियों के साथ मिलकर ड्रग्स सेवन की साजिश रची. आरोपपत्र के मुताबिक मामले में आरोपी अरबाज मर्चेंट द्वारा स्वेच्छा से दिए गए बयान का विश्लेषण करने पर पता लगा कि उसने कभी दावा नहीं किया है कि उसके पास से बरामद 6 ग्राम चरस आर्यन खान के सेवन के लिए थी.

इसमें आगे कहा गया कि आर्यन खान ने भी स्वेच्छा से दिए गए अपने किसी भी बयान में यह स्वीकार नहीं किया कि बरामद चरस उनके इस्तेमाल के लिए थी. एनसीबी ने कहा, ‘बल्कि अरबाज ने छह अक्टूबर 2021 को दिए बयान में कहा था कि आर्यन खान ने उसे चेतावनी दी थी कि वह क्रूज पर कोई मादक पदार्थ लेकर नहीं जाए.’ एजेंसी ने कहा कि आर्यन खान के मोबाइल फोन को भी कभी भी औपचारिक रूप से जब्त नहीं किया गया और उनके फोन से बरामद किसी भी चैट से उनकी संलिप्तता मामले से नहीं जुड़ती.

Tags: Aryan Khan, Cruise Drugs Case, NCB

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  Jammu Kashmir: कश्मीर के अनंतनाग में पुलिस और आतंकियों के बीच मुठभेड़, दो आतंकी हुए ढेर