e0a485e0a4b8e0a4ae e0a4aee0a587e0a498e0a4bee0a4b2e0a4af e0a4b8e0a580e0a4aee0a4be e0a4aae0a4b0 e0a4b2e0a495e0a4a1e0a4bce0a580 e0a495
e0a485e0a4b8e0a4ae e0a4aee0a587e0a498e0a4bee0a4b2e0a4af e0a4b8e0a580e0a4aee0a4be e0a4aae0a4b0 e0a4b2e0a495e0a4a1e0a4bce0a580 e0a495 1

गुवाहाटी. असम-मेघालय सीमा पर पुलिस द्वारा लकड़ी ले जा रहे एक ट्रक को मंगलवार तड़के रोकने के बाद भड़की हिंसा में एक वन कर्मी और खासी समुदाय के तीन लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. हालात को और बिगड़ने से रोकने के लिए अधिकारियों ने अब मोबाइल इंटरनेट और सोशल मीडिया कनेक्टिविटी को निलंबित कर दिया है. वेस्ट कार्बी आंगलोंग के पुलिस अधीक्षक इमदाद अली ने बताया कि ट्रक को मेघालय सीमा पर असम वन विभाग के एक दल ने तड़के करीब तीन बजे रोका.

उन्होंने बताया कि ट्रक के न रुकने पर वन विभाग के कर्मियों ने उस पर गोलियां चलाई और उसका टायर पंचर कर दिया. उन्होंने बताया कि चालक, उसका एक सहायक और एक अन्य व्यक्ति को पकड़ लिया गया, जबकि एक अन्य व्यक्ति वहां से भाग निकला.

पंजाब: पुलिस ने एक सप्ताह में गिरफ्तार किए 366 नशा तस्कर, भारी मात्रा में ड्रग्स बरामद

अली ने बताया कि वन विभाग के कर्मियों ने घटना की जानकारी जिरिकेंडिंग थाने के अधिकारियों को दी. इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची. उन्होंने बताया कि इसके बाद मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई और गिरफ्तार किए लोगों की रिहाई की मांग करने लगी. भीड़ ने वन विभाग के कर्मियों और पुलिस को घेर लिया जिसके बाद स्थिति को नियंत्रण करने के लिए अधिकारियों को गोलियां चलानी पड़ी.

अधिकारी ने कहा, ‘घटना में वन विभाग के एक होम गार्ड और खासी समुदाय के तीन लोगों की मौत हो गई. स्थिति अब नियंत्रण में है.’ वन कर्मी विद्यासिंग लेखटे की मौत कैसे हुई, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है. अली ने बताया कि जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच रहे हैं.

READ More...  'फ्रीडम टू फीड': नेहा धूपिया ने अपने नवजात बेटे के साथ स्तनपान की तस्वीर पोस्ट की

(इनपुट भाषा से भी)

Tags: Assam, Meghalaya

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)