e0a486e0a4a4e0a482e0a495 e0a495e0a580 e0a495e0a4bfe0a4a4e0a4bee0a4ac e0a495e0a4b9e0a587 e0a49ce0a4bee0a4a8e0a587 e0a4b5e0a4bee0a4b2
e0a486e0a4a4e0a482e0a495 e0a495e0a580 e0a495e0a4bfe0a4a4e0a4bee0a4ac e0a495e0a4b9e0a587 e0a49ce0a4bee0a4a8e0a587 e0a4b5e0a4bee0a4b2 1

हाइलाइट्स

एजाज अहमद अहंगर को गृह मंत्रालय ने घोषित किया आतंकवादी.
दुनिया का सबसे खूंखार आतंकवादियों में से एक है एजाज अहमद अहंगर.

नई दिल्ली. कश्मीर मूल के एक व्यक्ति को बुधवार को सरकार ने आतंकवादी घोषित किया. इस खूंखार आतंकवादी के अल-कायदा से संबंध हैं और वह अन्य वैश्विक आतंकवादी समूहों के संपर्क हैं तथा भारत में इस्लामिक स्टेट (आईएस) को फिर से शुरू करने में जुटा है. एजाज अहमद अहंगर उर्फ ​​अबू उस्मान अल-कश्मीरी वर्तमान में अफगानिस्तान में बसा है और वह इस्लामिक स्टेट जम्मू कश्मीर (आईएसजेके) के प्रमुख भर्ती करने वालों में से एक है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक अधिसूचना के माध्यम से घोषित किया कि उसे गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 के तहत आतंकवादी घोषित किया गया है.

दो दशक से फरार है एजाज अहंगर
1974 में श्रीनगर में पैदा हुआ अहंगर जम्मू कश्मीर में दो दशक से अधिक समय से वांछित आतंकवादी है और उसने विभिन्न आतंकवादी संगठनों के बीच समन्वय माध्यम बनाकर जम्मू कश्मीर में आतंक संबंधी रणनीतियों की साजिश रचनी शुरू कर दी है. गृह मंत्रालय ने कहा कि अहंगर कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने की दिशा में काम कर रहा है और उसने अपने कश्मीर आधारित नेटवर्क में शामिल करने के लिए लोगों की पहचान करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

एजाज अहमद अहंगर 1996 में कश्मीर जेल से हुआ था रिहा
अहंगर को भारत के लिए इस्लामिक स्टेट (आईएस) भर्ती सेल के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया था और उसने एक ऑनलाइन भारत-केंद्रित आईएसआईएस प्रचार पत्रिका शुरू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. अधिसूचना में कहा गया है कि गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए), 1967 के तहत चौथी अनुसूची में शामिल होने के साथ, अहंगर आतंकवादी घोषित होने वाला 49वां व्यक्ति होगा. एजाज अहमद अहंगर आखिरी बार 1996 में कश्मीर में जेल से छूटने के बाद से वह गायब था.

READ More...  Sarkari Naukri: राष्ट्रीय आवास बैंक में बिना परीक्षा मैनेजर बनने का गोल्डन चांस, बस करना होगा ये काम, 1.29 लाख है सैलरी 

Tags: Al-Qaeda, Home ministry

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)