Anurag Thakur on budget and coronavirus vaccination congress latest news- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने लोकसभा में कोरोना वायरस टीके को लेकर उठाए जा रहे सवालों का जवाब दिया।

नई दिल्ली: वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने बृहस्पतिवार को लोकसभा में कोरोना वायरस टीके को लेकर उठाए जा रहे सवालों का जवाब दिया। बता दें कि कांग्रेस, आरजेडी, समाजवादी पार्टी समेत तमाम विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले टीका नहीं लगवाने का मुद्दा उठाया था। इसका जवाब देते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि अगर आपकी सरकार होती तो पहला टीका आप प्रधानमंत्री नहीं बल्कि पहले परिवार को लगाते। उन्होंने कहा कि आपदा के समय अवसर ढूंढने का काम नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने किया।

बता दें कि पीएम मोदी ने टीकाकरण अभियान शुरू करने से पहले राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा था कि कोई भी जनप्रतिनिधि टीका लगवाने के लिए जल्दबाजी नहीं करेगा। जनप्रतिनिधियों को अपनी बारी की प्रतीक्षा करनी चाहिए। इस बात को लेकर पीएम विपक्ष के निशाने पर थे। कांग्रेस, आरजेडी, समाजवादी पार्टी समेत तमाम विपक्षी दलों ने पीएम और कैबिनेट के पहले टीका नहीं लगवाने का मुद्दा उठाया था, जबकि दुनिया में तमाम बड़े नेताओं ने टीके में भरोसा बहाली के लिए पहले टीका लगवाया था।

वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने लोकसभा में कहा कि लोगों ने कहा की गरीब को कुछ नहीं मिला, इससे बड़ा झूठ क्या हो सकता। उन्होंने बताया कि 80 करोड़ परिवारों को मुफ्त राशन दिया गया। उन्होंने आगे कहा, “आपने बड़ी आसानी से कह दिया कि ये देश मैन्युफैक्चरिंग हब नहीं बन सकता। यही अंतर है दो विचारधाराओं में क्योंकि जब बॉर्डर पर चीन की सेना भारतीय सेना को आंख दिखाती है तो आप चीनी अधिकारियों के साथ सूप पीने चले जाते हैं। सेना की चिंता भी नहीं करते लेकिन हम आपदा में भी अवसर ढूंढते हैं।”

READ More...  त्रिपुरा: सड़क हादसे में 4 भाजपा नेताओं की मौत, चुनावी बैठक से लौट रहे थे अपने घर

अनुराग ठाकुर ने कहा, “आईएमएफ ने कहा कि अगले वित्त वर्ष में भारत की विकास दर साढ़े 11 प्रतिशत होगी, रिजर्व बैंक ने कहा लेकिन इनको विश्वास नहीं होता। जो नेता इतना समर्पित है उसकी सही सोच पर भी आपने देश के किसानों को भ्रमित करने का प्रयास किया। आप राफेल क्यों नहीं खरीद पाए, जीजा जी का इंतजार कर रहे थे? कितना मिलेगा इसकी सेटिंग हो रही थी?”

उन्होंने कहा, “काले ये कृषि कानून नहीं बल्कि काले आपके इरादे है। इनके समय में महंगाई 11 प्रतिशत होती थी, हमने 4 प्रतिशत तक रखने का का लक्ष्य तय किया है। उन्होंने कहा कि यह बजट सशक्त भारत बनाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच के अनुरूप है और इसे पूरी तरह से पारदर्शी बनाया गया है।

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Original Source(india TV, All rights reserve)