e0a487e0a482e0a497e0a58de0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a495e0a587 e0a4b8e0a4ace0a4b8e0a587 e0a4ace0a581e0a49ce0a581e0a4b0e0a58de0a497
e0a487e0a482e0a497e0a58de0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a495e0a587 e0a4b8e0a4ace0a4b8e0a587 e0a4ace0a581e0a49ce0a581e0a4b0e0a58de0a497

नई दिल्ली. इंग्लैंड के पूर्व विकेटकीपर-बैट्समैन जिम पार्क्स का 90 साल की उम्र में निधन हो गया. पार्क्स वर्तमान में इंग्लैंड के सबसे बुजुर्ग टेस्ट क्रिकेटर थे. उन्होंने साल 1954 से 1968 के बीच इंग्लैंड के लिए 46 टेस्ट खेले.पार्क्स ससेक्स के लिए काउंटी क्रिकेट खेलते थे.ससेक्स ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से जिम पार्क्स के निधन की जानकारी दी.

साल 1931 में जन्मे पार्क्स ने 18 साल की उम्र में ससेक्स के लिए खेलना शुरू किया था.अपने करियर में जिम ने 739 फर्स्ट क्लास मैच और 132 लिस्ट A मैच ससेक्स काउंटी के लिए खेले.साल 1954 में उनका सिलेक्शन एक बल्लेबाज के तौर पर किया गया था. 4 साल बाद जिम ने विकेटकीपिंग भी शुरू की जिसके बाद वे क्रिकेट जगत में अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहे.

शुरुआती दौर पर जिम लेग ब्रेक बॉलर भी थे. ससेक्स के लिए विकेटकीपिंग शुरू करने के 18 महीने बाद उन्हें इंग्लैंड की टीम में जगह मिल गई. 1960 के दशक में जिम इंग्लैंड की टीम के मुख्य सदस्यों में से एक थे.एक बल्लेबाज के तौर पर जिम पार्क ने इंग्लैंड के लिए करीब 2,000 रन बनाए और इस दौरान उनका औसत 32 का रहा. इसमें दो शतकीय पारियां भी शामिल हैं जो वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका के खिलाफ थीं. जिम ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में 36673 रन बनाए.

दिलचस्प है कि जिम ने अपने करियर की शुरुआत एक लेग ब्रेक बॉलर के तौर पर की थी.बाद में उन्होंने बल्लेबाज के तौर पर खेलना शुरू किया और विकेट के पीछे कीपिंग में भी अपने जौहर दिखाए. इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड के चीफ एग्जीक्यूटिव टॉम हैरिसन ने जिम के निधन पर दु:ख जताते हुए कहा, ‘यह बेहद दुखद खबर है.’ 23 साल तक ससेक्स के साथ रहने के बाद जिम ने साल 1973 में समरसेट में शामिल हो गए. हालांकि बाद में फिर वे एक मार्केटिंग मैनेजर के तौर पर ससेक्स से जुड़ गए.

READ More...  Norway Chess Blitz Event: विश्वनाथन आनंद ने मैग्नस कार्लसन को हराया, 10 खिलाड़ियों के बीच 5 अंक जुटाए

Tags: England County Cricket, Sussex

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)