e0a487e0a482e0a4a1e0a4bfe0a4afe0a4be e0a4aae0a58be0a4b8e0a58de0a49f e0a4aae0a587e0a4aee0a587e0a482e0a49f e0a4ace0a588e0a482e0a495
e0a487e0a482e0a4a1e0a4bfe0a4afe0a4be e0a4aae0a58be0a4b8e0a58de0a49f e0a4aae0a587e0a4aee0a587e0a482e0a49f e0a4ace0a588e0a482e0a495 1

नई दिल्ली. आपका खाता अगर इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) में है और आपके पास बैंक का वर्चुअल डेबिट कार्ड है तो आपकी जेब पर अतिरिक्त बोझ पड़ने वाला है. दरअसल, आईपीपीबी के वर्चुअल डेबिट कार्ड होल्डर्स को अब एनुअल मैंटेनेंस और रिइश्युएंस चार्जेस का भुगतान करना होगा.

इसके लिए उपभोक्ताओं को 25-25 रुपये का भुगतान करना होगा. यह शुल्क 15 जुलाई 2022 से लागू हो जाएगा. बता दें कि प्रीमियम खातों (एसबीपीआरएम) को इन शुल्कों से छूट दी जाएगी. गौरतलब है कि आईपीपीबी ने ग्राहकों को डिजिटल भुगतान ईकोसिस्टम की ओर बढ़ाने के लिए वर्चुअल डेबिट कार्ड लॉन्च किया था. डिजिटल भुगतान को केंद्र से भी बढ़ावा मिल रहा है.

ये भी पढ़ें- Post Office की बेस्ट सेविंग स्कीम, यहां निवेश करके रिटर्न भी ज्यादा मिलेगा और पैसा भी सुरक्षित रहेगा

क्या है डिजिटल डेबिट कार्ड
यह एक डिजिटल कार्ड है जिसका इस्तेमाल ऑनलाइन लेनदेन के लिए किया जा सकता है. कार्ड का उपयोग एक फिजिकल कार्ड की तरह ही भारत में किसी भी मर्चेंट वेबसाइट/ऑनलाइन पोर्टल पर ऑनलाइन खरीदारी के लिए किया जा सकता है. बशर्ते वहां रुपे कार्ड स्वीकार किया जाता हो. इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक के ग्राहक अपने मोबाइल बैंकिंग ऐप पर इसे जनरेट कर सकते हैं.

नई सेवा पर विचार
केंद्र सरकार बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं की मेजबानी के लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक और प्रमुख मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप के बीच एक साझेदारी पर विचार कर रही है. सरकार का उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को डिजिटल सेवाओं से जोड़ना है और इसके लिए वह वॉट्सऐप व इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के बीच आगे और भी साझेदारी पर विचार कर सकती है. इससे बैंक के ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने में मदद मिलेगी और उन्हें बुनियादी काम के लिए बैंक जाने की आवश्यकता नहीं होगी.

READ More...  Indian Railways: रेलयात्री ध्‍यान दें, अंबाला रूट पर इन ट्रेनों की आवाजाही रहेगी प्रभाव‍ित, इतने घंटे रूककर चलेंगी ये ट्रेनें

ये भी पढ़ें- काम की बात : तोहफे में मिले शेयरों पर भी चुकाना पड़ता है टैक्‍स, पर किसी अपने ने दिया है तो क्‍या कहता है नियम?

इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक
यह एक पब्लिक लिमिटेड कंपनी है जहां केंद्र सरकार की 100 फीसदी हिस्सेदारी है. इसे डाक विभाग के तहत भुगतान बैंक के रूप में स्थापित किया गया है. बैंक अगले 60 दिनों तक बैलेंस इंक्वायरी, नए खाते के लिए आवेदन व अन्य बैंकिंग कार्यों के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट चलाने जा रहा है.

कैसे जेनरेट करें वर्चुअल कार्ड
वर्चुअल डेबिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए पहले आईपीपीबी ऐप डाउनलोड करें. इसके बाद रुपे कार्ड पर क्लिक करें फिर वर्चुअल डेबिट कार्ड सलेक्ट करें. नए पेज पर रिक्वेस्ट वर्चुअल डेबिट कार्ड पर क्लिक करें. फिर नियम और शर्तों को स्वीकार करें और प्रोसीड का बटन दबाएं. आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को दर्ज करें और आपका डिजिटल डेबिट कार्ड जेनरेट हो जाएगा.

ये भी पढ़ें- EPFO : कर्मचारी अपने ईपीएफ खाते में बैंक अकाउंट डिटेल कैसे अपडेट करें? स्‍टेप बाई स्‍टेप पूरी जानकारी

Tags: Debit card, India post payments bank, Post Office

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)