e0a495e0a482e0a49de0a4bee0a4b5e0a4b2e0a4be e0a4b8e0a4a1e0a4bce0a495 e0a4b9e0a4bee0a4a6e0a4b8e0a4bee0a483 6 e0a4ade0a4bee0a488 e0a4ac

हाइलाइट्स

बीते शनिवार की देर रात को अंजलि की सड़क हादसे में मौत हो गई.
अंजलि अपने परिवार की इकलौती कमाने वाली सदस्य थी.

नई दिल्ली: बाहरी दिल्ली के कंझावला (Kanjhawala Road Accident) इलाके में हुए दर्दनाक हादसे में जान गंवाने वाली 20 वर्षीय अंजलि 6 लोगों के परिवार की इकलौती कमाने वाली सदस्य थी. अंजलि छह भाई-बहनों के एक बड़े परिवार, एक बीमार मां और एक दादी की देखभाल करती थी. अंजलि की मौत से पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ सा टूट गया है. बीते शनिवार शाम को वह होटल में काम करने के बाद पश्चिमी दिल्ली स्थित अपने घर लौट रही थी. तभी दर्दनाक हादसे का शिकार हो गई.

करीब 12 किलोमीटर तक कार में फंसी रह गई अंजलि
साल के पहले दिन के अभी कुछ घंटे ही बीते थे कि एक कार ने उसकी स्कूटी को टक्कर मार दी, जिससे वह कार में फंस गई और इन सबसे अनजान पांचों आरोपित तेज रफ्तार में कार चलाते रहे और करीब 12 किलोमीटर तक अंजलि को घसीटते रहे. अंजलि की मौत के बाद सुल्तानपुरी में उसका परिवार बिखर गया है. एक निजी चैनल से बातचीत करते हुए उसकी दादी कांता ने कहा, “वह अकेली कमाने वाली थी. उसने कई साल पहले अपने पिता को खो दिया था और उसकी मां किडनी की मरीज है.”

अंजलि के शव की हो गई थी बुरी हालत
अंजलि का शरीर कार के एक्सल में अटका हुआ था और उसे कार द्वारा एक घंटे से अधिक समय तक घसीटा गया, जिसमें पांच लोग सवार थे, सभी कथित रूप से नशे में थे. जब वह मिली तो उसके कपड़े फटे हुए थे और उसकी चमड़ी उतर गई थी. उसके परिवार ने बलात्कार का आरोप लगाया, लेकिन शव का पोस्टमार्टम में ऐसी कोई जानकारी सामने नहीं आई. क्योंकि उसके निजी अंगों पर किसी भी तरह का कोई चोट नहीं थी.

READ More...  महाराष्ट्र के राजनीतिक विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, आ सकता है बड़ा फैसला

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

घर संभालने के लिए अंजलि ने छोड़ दी पढ़ाई
उसकी दादी ने आरोप लगाते हुए कहा, “उन्होंने उसके साथ बलात्कार किया. उन्हें फांसी दी जानी चाहिए.” वहीं अंजलि के पड़ोसी भी इस घटना से सदमे में हैं. अंजलि के पड़ोसियों ने कहा कि वह एक अच्छी लड़की थी. वही परिवार का देखभाल करती थी. एक पड़ोसी ने कहा, “उसने दो बहनों की शादी कर दी. वह अपने भाइयों की पढ़ाई की फीस भर रही थी. उसने अपने पूरे परिवार की देखभाल की.” अंजलि को कमाई शुरू करने के लिए स्कूल छोड़ना पड़ा. उसने एक सैलून में नौकरी शुरू की और साथ ही शादियों में एक सहायक के रूप में काम करने लगी.

Tags: Delhi, Road accident

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)