e0a495e0a4b0e0a58de0a4a8e0a4bee0a49fe0a495 e0a4aee0a587e0a482 25 e0a489e0a497e0a58de0a4b0 e0a4b9e0a4bfe0a482e0a4a6e0a582
e0a495e0a4b0e0a58de0a4a8e0a4bee0a49fe0a495 e0a4aee0a587e0a482 25 e0a489e0a497e0a58de0a4b0 e0a4b9e0a4bfe0a482e0a4a6e0a582 1

हाइलाइट्स

श्री राम सेना के प्रमुख ने कहा कि उनके सहित 25 ‘‘उग्र’’ हिंदूवादी विधानसभा चुनाव लड़ेंगे.
प्रमोद मुतालिक ने कहा कि भाजपा में जो हिंदू जीते, वे कुछ नहीं कर पाए हैं.
प्रमोद मुतालिक ने कहा कि ये सभी उम्मीदवार निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे.

चिकमगलुरू. दक्षिणपंथी संगठन श्री राम सेना के प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने रविवार को कहा कि उनके सहित 25 ‘‘उग्र’’ हिंदूवादी कर्नाटक में अगले साल का विधानसभा चुनाव निर्दलीय उम्मीदवारों के रूप में लड़ेंगे. मुतालिक ने दावा किया कि इसका उद्देश्य हिंदुओं की रक्षा करना है. उन्होंने आरोप लगाया कि हिंदुओं के समर्थन से सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समुदाय और हिंदुत्व की रक्षा करने में विफल रही है.

मुतालिक ने कहा, ‘भाजपा का गठन हिंदुत्व के लिए हुआ था. केंद्र में मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) और उत्तर प्रदेश में योगी (मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ) के अलावा कोई दूसरा ऐसा नहीं है जो हिंदुत्व को बचाने के लिए काम कर रहा हो. कर्नाटक में हिंदुओं की मेहनत से जीती भाजपा, हिंदुओं और हिंदू कार्यकर्ताओं की रक्षा नहीं कर सकी है.’

उन्होंने कहा, ‘भाजपा में जो हिंदू जीते, वे कुछ नहीं कर पाए हैं. कर्नाटक में हम उग्र हिंदूवादियों ने हिंदुत्व को बचाने के लिए राजनीति में आने का संकल्प लिया है, इसलिए 2023 के आगामी विधानसभा चुनाव में 25 उग्र हिंदूवादी बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे.’ वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्धरमैया ने बीते बृहस्पतिवार को ‘40 फीसदी कमीशन सरकार’ का कटाक्ष दोहराते हुए कर्नाटक में ‘कुशासन’ को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया.

READ More...  Air India ने लिया बड़ा फैसला, कर्मचारियों को VRS का ऑप्‍शन, ये हैं नियम

राज्य में शुक्रवार को मोदी के दौरे से पहले पूर्व मुख्यमंत्री ने एक खुले पत्र में भाजपा के मंत्रियों पर निशाना साधते हुए कुछ को ‘सरगना’ करार दिया है, जो घोटालों में शामिल हैं. कर्नाटक विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने राज्य की ‘40 फीसदी कमीशन सरकार’ के पीड़ितों की लिखित शिकायत पर उदासीनता दिखायी. सिद्धरमैया ने आरोप लगाया, ‘राज्य की भाजपा सरकार भ्रष्टाचार का पर्याय बन गई है और जनता तथा मीडिया में इस सरकार को व्यापक रूप से ‘40 फीसदी सरकार’ की संज्ञा दी जा रही है.’

Tags: Assembly election, Karnataka

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)