कहीं जाने की जरूरत नहीं, अब दफ्तर में बैठे-बैठे ही लगवा सकेगें कोरोना का टीका- India TV Hindi
Image Source : PTI कहीं जाने की जरूरत नहीं, अब दफ्तर में बैठे-बैठे ही लगवा सकेगें कोरोना का टीका

नई दिल्ली: कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ भारत बहुत तेजी से टीकाकरण अभियान चला रहा है। हर रोज लाखों की संख्या में लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। यह वह लोग हैं, जिनकी उम्र 45 साल या उससे अधिक है। इन लोगों को टीकाकरण केंद्र पर जाकर टीका लगवाना होता है लेकिन अब सरकार ऐसी व्यवस्था कर रही है, जिसमें दफ्तरों में ही टीकाकरण केंद्र लगाया जाएगा ताकि लोग अपने दफ्तर में ही टीका लगवा सकें।

सरकार ने निर्णय लिया है कि 45 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए कोरोना वायरस संक्रमण का टीका मुहैया कराने के लिए 11 अप्रैल से प्राइवेट और सरकारी दफ्तरों में टीकाकरण केंद्र लगाया जाएगा। सरकार 11 अप्रैल से उन सरकारी और निजी कार्यस्थलों पर कोरोना वायरस के टीकाकरण को अनुमति देगी, जहां करीब 100 पात्र लाभार्थी होंगे मतलब जहां करीब 100 लोग 45 साल से ज्यादा उम्र के होंगे।

भारत में टीकाकरण की गति सबसे तेज

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीकाकरण में अमेरिका को पीछे छोड़ते हुए भारत दुनिया में सबसे तेज टीकाकरण वाला देश बन गया है। भारत में रोजाना औसतन 30,93,861 खुराकें दी जा रही हैं। देश में अब तक कोविड-19 टीके की 8.70 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। सुबह सात बजे तक की अनंतिम रिपोर्ट के मुताबिक, कुल 13,32,130 सत्रों में टीके की 8,70,77,474 खुराकें दी जा चुकी हैं। 

इनमें 89,63,724 स्वास्थ्यकर्मियों कोविड-19 टीके की पहली खुराक जबकि 53,94,913 स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरी खुराक दी गयी हैं। वहीं, अग्रिम मोर्चे के 97,36,629 कर्मियों को पहली खुराक और 43,12,826 कर्मियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है। इसके अलावा 60 साल से ज्यादा उम्र के 3,53,75,953 लोगों को पहली खुराक और इसी आयुवर्ग के 10,00,787 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी हैं। 

READ More...  छत्तीसगढ़ में सामने आए Covid-19 के 378 नए मामले, तीन मरीजों की मौत

वहीं, 45 साल से 60 साल के बीच के 2,18,60,709 लोगों को पहली खुराक और 4,31,933 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी है। पिछले 24 घंटे में 33 लाख से ज्यादा कोविड-19 रोधी टीके की खुराकें दी गयी। देश में टीकाकरण अभियान के 81वें दिन (छह अप्रैल) को 33,37,601 लोगों को खुराकें दी गयी। देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है और बुधवार को अब के सर्वाधिक 1,15,736 नए मामले सामने आए। 

नए मामलों में महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और केरल की भागीदारी 80.70 प्रतिशत थी। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 55,469 मामले सामने आए। वहीं छत्तीसगढ़ में 9,921 और कर्नाटक में 6150 मामले आए। उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी 8,43,473 हो गयी है जो संक्रमण के कुल मामलों का 6.59 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मामलों में 55,250 मामलों की बढ़ोतरी हुई। 

देश में ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,17,92,135 हो गयी है। पिछले 24 घंटे में 59,856 लोग स्वस्थ हो गए। पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 630 लोगों की मौत हो गयी। इनमें आठ राज्यों की भागीदारी 84.44 प्रतिशत है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 297 लोगों की मौत हो गयी। पंजाब में संक्रमण से 61 लोगों ने दम तोड़ दिया। 

देश में पिछले 24 घंटे में 11 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोविड-19 से किसी की मौत नहीं हुई। इनमें ओडिशा, लद्दाख, दमन और दीव, दादर और नगर हवेली, नगालैंड, मेघालय, सिक्किम, मणिपुर, लक्षद्वीप, मिजोरम, अंडमान निकोबार द्वीप समूह और अरुणाचल प्रदेश हैं।

READ More...  देश में अब तक कोरोना वैक्सीन की 5.46 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गईं

Original Source(india TV, All rights reserve)