e0a495e0a4bee0a4a8e0a4aae0a581e0a4b0 e0a497e0a58be0a4b2e0a580e0a495e0a4bee0a482e0a4a1 e0a4aee0a587e0a482 e0a4a8e0a4afe0a4be e0a496
e0a495e0a4bee0a4a8e0a4aae0a581e0a4b0 e0a497e0a58be0a4b2e0a580e0a495e0a4bee0a482e0a4a1 e0a4aee0a587e0a482 e0a4a8e0a4afe0a4be e0a496 1

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर स्थित चकेरी थाना क्षेत्र के श्याम नगर में रविवार शाम दिल दहला देने वाली घटना सामने आई, जिसमें एक बुजुर्ग ने अपने ही परिवार को बंधक बनाकर घंटों पुलिस को नाको चने चबवा दिए. घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने आखिरकार उस पर काबू पाया और गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में अब नया खुलासा सामने आ रहा है.

स्थानीय लोगों और परिवार के लोगों का कहना है कि इस बुजुर्ग का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था और उनका इलाज भी चल रहा था. रविवार को दवाई ना खाने की वजह से इस तरह की घटना हुई. बुजुर्ग के रिश्तेदारों के मुताबिक, पारिवारिक कलह के चलते भी वह मानसिक तनाव में थे और इसी कारण अपने ही परिवार को बंधक बनाकर घंटों फायरिंग की.

आरके दुबे व्यापारी हैं, जो शेयर बाजार में भी निवेश किया करते थे. स्थानीय लोगों का कहना है कि पहले भी मोहल्ले के लोगों के साथ उनकी बकझक हो चुकी है. एक बार चबूतरे पर बैठने को लेकर पड़ोसी के साथ उनका झगड़ा हुआ था, जिसमें उन्होंने फायरिंग कर दी थी.

दरवाज़े पर पुलिस की दस्तक बनी ट्रिगर
इस बीच यह भी बताया जा रहा है कि बहु की शिकायत पर पुलिसवालों द्वारा घर पर दस्तक ने आरके दुबे के लिए ट्रिगर का काम किया. हालांकि डीसीपी पूर्वी प्रमोद कुमार ने उन्हें किसी तरह समझा-बुझाकर शांत कराया, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें काबू कर दिया.

दरअसल दुबे को काबू करने के लिए मौके पर पहुंचे डीसीपी ने जब बुजुर्ग से बात की तो उसने अपने बेटे-बहू पर खुद को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया. इसके साथ उसने कहा कि मेरी शिकायत पर पुलिस इतनी जल्द नहीं आती, लेकिन बहू के फोन करते ही दरोगा तुरंत आ गया. उसने अपने घर पहुंचे दारोगा को तुरंत सस्पेंड करने की मांग की.

READ More...  Tandav वेब सीरीज विवाद पर बीजेपी का बड़ा बयान, जानें क्या कहा

डीसीपी ने दिखाई सूझबूझ
ऐसे में डीसीपी ने समझदारी दिखाते हुए दुबे से उनका मोबाइल नंबर लिया और एक फर्जी निलंबन पत्र बनाकर उन्हें वॉट्सऐप कर दिया. वह लेटर देखने के बाद ही दुबे ने फायरिंग रोकी, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

इस मामले में डीसीपी प्रमोद कुमार सिंह ने आरोपी आरके दुबे की पत्नी की भी गिरफ्तारी की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि पुलिस को वीडियो मिले हैं, जिसमें पत्नी भी धमकाने का काम कर रही है. इसके साथ ही पुलिस ने मकान में लगे सीसीटीवी के डीवीआर को भी सीज़ कर लिया है. वहीं घटनास्थल से बरामद 20 खोखे को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है. उन्होंने कहा कि मामले में गहनता से सभी तथ्यों पर जांच की जा रही है. जांच में जिस तरह के तथ्य सामने आएंगे उस पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.’

Tags: Firing, Kanpur news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)