e0a495e0a4bee0a4a8e0a4aae0a581e0a4b0 e0a4b9e0a4bfe0a482e0a4b8e0a4bee0a483 e0a49ce0a581e0a4aee0a587 e0a495e0a580 e0a4a8e0a4aee0a4be
e0a495e0a4bee0a4a8e0a4aae0a581e0a4b0 e0a4b9e0a4bfe0a482e0a4b8e0a4bee0a483 e0a49ce0a581e0a4aee0a587 e0a495e0a580 e0a4a8e0a4aee0a4be 1

लखनऊ. कानपुर में 3 जून को भड़की हिंसा के बाद अगले ही शुक्रवार को पूरे यूपी में हुए बवाल को लेकर अब पुलिस अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है. अब एक बार फिर जुमे की नमाज से पहले पूरे यूपी में हाई अलर्ट है. चप्पे-चप्पे पर पुलिस ने कड़ा पहरा कर दिया है और किसी भी तरह की वारदात को रोकने के लिए अधिकारियों से लेकर पुलिसकर्मियों तक सभी फील्ड में तैनात हैं. प्रशासनिक अधिकारी भी पूरे घटनाक्रम के बाद से अलर्ट हैं. गत शुक्रवार को भी जुमे की नमाज के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में हिंसा हुई थी और जगह-जगह लोगों ने पत्‍थरबाजी की थी. इस दौरान कई लोग घायल भी हुए थे और पुलिस ने बड़ी संख्या में उपद्रवियों को गिरफ्तार भी किया था. सबसे ज्यादा प्रयागराज में उपद्रव के दौरान तोड़फोड़ और पत्‍थरबाजी का मामला सामने आया था.
इसी को देखते हुए सरकार ने पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को व्यवस्‍थाएं चाक चौबंद करने का निर्देश दिया था. जिसके बाद हर जिले में धर्म गुरुओं, इमामों, मुदर्रिसों के साथ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने मीटिंग कर माहौल को शांत रखने की अपील की है.

कहां पर क्या तैयारी

प्रयागराज: पुलिस और प्रशासन ने यहां पर पूरी तैयारी की है. धर्म गुरुओं के साथ मीटिंग कर उनसे शांति बनाए रखने की अपील भी लोगों के लिए जारी करवाई गई है. गत शुक्रवार की तुलना में इस बार कई गुना पुलिस, होमगार्ड, पीएसी, आरएएफ और पैरा मिलिट्री बल तैनात किया गया है. संवेदनशील इलाकों में 300 की संख्या में एक्स्ट्रा CCTV कैमरे लगाए गए हैं, 04 ड्रोन कैमरों और 200 वीडियो ग्राफरों की व्यवस्था की गई है. वहीं पुलिस, पीएसी और पैरामिलिट्री बलों द्वारा फ्लैग मार्च किया जा रहा है. रात में शहर और देहात के तमाम होटलों, सरायों, ढाबों, मंदिरों, मस्जिदों, गुरुद्वारों, चर्चों, स्कूलों, मदरसों के आसपास पुलिस पीएसी बल सघन चेकिंग करेगा. इसी के साथ अपराधिक तत्वों की जानकारी देने के लिए 112 नंबर के साथ ही 9454402863 और 9454400248 नंबर भी जारी किया गया है.

READ More...  सेना में भर्ती के लिए तैयार हुई नई 'अग्निपथ' योजना, शीर्ष सैन्य कमांडरों ने पीएम मोदी को दी जानकारी

मेरठः मेरठ में भी हाई अलर्ट है. पुलिस ने शहर भर में गुरुवार को भी फ्लैग मार्च निकाला. हापुड़ अड्डा, घंटाघर, जली कोठी, सोतीगंज में फ्लैग मार्च निकाला गया है. अराजक तत्वों पर पुलिस की कड़ी निगाह होने के साथ ही सोशल मीडिया को भी खंगाला जा रहा है. भारी पुलिस बल पूरे शहर में तैनात है.

फिरोजाबादः प्रशासन ने मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ की मीटिंग कर शांति व्यवस्‍था बनाए रखने की अपील की है. शुक्रवार को होने वाली नमाज को लेकर पुलिस प्रशासन फोर्स के साथ पूरे शहर में तैनात रहेगा. गौरतलब है कि 10 जून को फिरोजाबाद में जुमे की नमाज के बाद जमकर हंगामा हुआ था.

अयोध्याः जुमे की नमाज से पहले गुरुवार को शहर में रूट मार्च निकाला गया. आईजी केपी सिंह, डीएम नीतीश कुमार व एसएसपी शैलेश पांडे ने पुलिस बल के साथ मार्च किया. सभी धर्मों के धर्मगुरुओं से संवाद कर शांति बनाए रखने की अपील की गई. वहीं जनपद में सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट को तैनात किया गया है. पुलिस अधिकारियों के साथ सेक्टर मजिस्ट्रेट भी तैनात किए जाएंगे.

वाराणसीः शहर में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने किया फ्लैग मार्च. पुलिस बल अलर्ट पर है. लोगों से शांति व कानून व्यवस्‍था बनाए रखने की अपील की गई है. पूरे शहर में आरएएफ और पीएसी के जवान तैनात हैं.

उन्नावः जुमे की नमाज पर उन्नाव में भी हाई अलर्ट है. एलआईयू और आईबी समेत अन्य खुफिया एजेंसी पल-पल की गतिविधियों पर नजर रख रही है. जिलाधिकारी ने धर्म गुरुओं के साथ बैठक कर शांति व्यवस्‍था बनाए रखने की अपील की है. संवेदनशील इलाकों की ड्रोन कैमरों से होगी निगरानी. साथ ही जामा मस्जिद के आसपास भारी पुलिस बल व पीएसी तैनात की गई है.

READ More...  कांग्रेस का आरोप, बाहरी ताकतों की चेतावनी के कारण बीजेपी ने प्रवक्ताओं को हटाया

लखनऊः प्रदेश भर में हुई हिंसा के बाद अब शिया वक्फ बोर्ड के अधीन समस्त वक्फ मस्जिदों के मुतवल्लियो को बोर्ड के चैयरमैनों को शांति व्यवस्‍था बनाए रखने का निर्देश दिया गया है. साथ ही नमाज के बाद भीड़ जमा न हो और न ही कोई जलसा हो इसके लिए भी कड़े निर्देश हैं. चैयरमैन शिआ सेंट्रल वक्फ बोर्ड अली जैदी ने लिखित आदेश पारित करके सख्ती से लागू करने को सारे मुतवल्लियों को निर्देशित किया है. इसी के साथ पुलिस और प्रशासन भी हाईअलर्ट पर है और पूरे शहर में बड़ी संख्या में फोर्स तैनात है.

प्रतापगढ़: प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों ने धर्मगुरुओं से शांति व्यवस्‍था बनवाए रखने की अपील की है. सभी 23 थानों में ड्रोन से निगरानी की जा रही है. जिले को 2 सुपर जोन, 6 जोन और 27 सेक्टरों में बांटा गया है.

कासगंजः जिला अलर्ट पर है. जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक सड़कों पर उतकर मार्च कर रहे हैं और लोगों से शांति व्यवस्‍था बनाए रखने की अपील कर रहे हैं. पूरे जिले में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है और ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है.

रायबरेलीः जिला प्रशासन व पुलिस हाई अलर्ट पर है. धर्मगुरुओं से संवाद कर शांति बनाए रखने की अपील की गई है. साथ ही पुलिस अधिकारी शहर में मार्च कर रहे हैं. कहारों के अड्डा, किला बाजार, गुलाब रोड, खिन्नी तल्ला सहित एक दर्जन मोहल्लों में किया मार्च किया गया. साथ ही ड्रोन कैमरों से भी निगरानी रखी जा रही है.

गोंडा: संवेदनशील इलाकों में कमिश्नर और डीआईजी ने गश्त की है. पुलिस, पीएसी और क्यूआरटी टीम के साथ लगातार फुट पेट्रोलिंग की जा रही है. डीएम और एसपी ने धर्मगुरुओं, राहगीरों और दुकानदारों से की बातचीत. नमाज के बाद लोगों को शांति बनाये रखने की अपील की गई है.

READ More...  जम्मू-कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकवादी मारे गए

Tags: Kanpur violence, UP news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)