e0a495e0a58be0a4b0e0a58be0a4a8e0a4be e0a495e0a587 e0a4b8e0a4bee0a4a4 e0a4a6e0a4bfe0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 34 e0a4aee0a4b0e0a580e0a49c

भागलपुर28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
जिले में सात दिन के अंदर काेराेना के 34 मरीज मिले हैं। - Dainik Bhaskar

जिले में सात दिन के अंदर काेराेना के 34 मरीज मिले हैं।

जिले में सात दिन के अंदर काेराेना के 34 मरीज मिले हैं। गुरुवार काे मिले सात संक्रमिताें में भी पांच ऐसे हैं जाे इलाज कराने मायागंज अस्पताल में भर्ती हुए। उनकी जांच हुई ताे संक्रमित निकले। पिछले दिनाें पाॅजिटिव आए लाेगाें में उनलाेगाें की संख्या ही ज्यादा है जाे अस्पताल मायागंज अस्पताल में ऑपरेशन या किसी अन्य चीज के लिए भर्ती हुए हैं। इसके बाद हुई जांच में पाॅजिटिव निकल गए हैं।

नए संक्रमिताें में चार शहरी इलाके के
सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा ने बताया कि गुरुवार को शहरी क्षेत्र में चार और नवगछिया, सुल्तानगंज व गोपालपुर प्रखंड के एक-एक मरीज मिले हैं। वर्षीय वरीय सर्जन के अलावा बड़ी खंजरपुर के 47 वर्षीय व्यक्ति काे काेराेना हुआ है। बड़ी खंजरपुर निवासी 16 जून को सिलीगुड़ी से लाैटे हैं। गले में खरास हाेने पर कोरोना जांच करायी ताे रिपाेर्ट पॉजिटिव अायी। जोगसर निवासी 33 वर्षीय महिला बैंक ऑफ बड़ौदा के हरिदासपुर शाखा की कर्मचारी हैं। उन्हाेंने खांसी और सर्दी हाेने पर जांच करायी थी।

संक्रमित निकलने के बाद सर्जरी भी टल रही
मारूफचक निवासी 54 साल का अधेड़ सड़क दुर्घटना में पैर टूटने के बाद इलाज के लिए हड्डी रोग विभाग में भर्ती हुआ। गुरुवार को ऑपरेशन हुआ और शाम में रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। सुल्तानगंज के महेशी निवासी 61 वर्षीय बुजुर्ग काे गॉल ब्लैडर में स्टाेन की सर्जरी को भर्ती कराया गया था। वह भी पॉजिटिव निकले। इसी तरह नवगछिया प्रखंड के साहू परबत्ता निवासी 45 वर्षीय युवक भी अस्पताल में पाॅजिटव निकले। गोपालपुर प्रखंड के सिया मकंदपुर निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग सड़क दुर्घटना में घायल हो गये थे। सोमवार को ऑपरेशन तय था। अब काेराेना निगेटिव हाेने के बाद ही हीगा।

READ More...  मुन्नी के पास मोबाइल नहीं पर 23 लाख की संपत्ति:RJD की उम्मीदवार 150 ग्राम सोने और 1 किलो चांदी की मालकिन

बूस्टर डाेज जरूर लें
‘जिले में काेराेना तेजी से बढ़ रहा है। लाेगाें काे सचेत रहने की जरूरत है। जिन लाेगाें ने बूस्टर डाेज नहीं लगवाया है और उनका समय पूरा हाे गया है, वे जरूर लगवा लें।’

-डॉ. उमेश शर्मा, सिविल सर्जन

खबरें और भी हैं…

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)