e0a495e0a58de0a4afe0a4be e0a4ace0a4bfe0a495e0a4a8e0a587 e0a49ce0a4be e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588 e0a4a8e0a58be0a48fe0a4a1e0a4be
e0a495e0a58de0a4afe0a4be e0a4ace0a4bfe0a495e0a4a8e0a587 e0a49ce0a4be e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588 e0a4a8e0a58be0a48fe0a4a1e0a4be 1

हाइलाइट्स

साल 2007 में 147 एकड़ में बने जीआईपी मॉल का उद्घाटन हुआ था.
जीआईपी मॉल के वाइस प्रेजिडेंट माहिम सिंह ने कहा कि GIP के प्रोमोटर्स बदलेंगे.
जीआईपी मॉल के वाइस प्रेजिडेंट माहिम सिंह ने मॉल के बिकने की खबर को अफवाह बताया.

नोएडा. दिल्ली से सटे नोएडा में मौजूद प्रसिद्ध द ग्रेट इंडिया प्लेस की बिकने की आशंका जतायी जा रही है. लोगों के मन में इसके पीछे का कारण जानने की उत्सुकता है. लोगों के जेहन में सवाल है कि क्या GIP मॉल बंद हो जाएगा? इन सभी के सवालों के जवाब NEWS 18 से खास बातचीत में GIP मॉल रिटेल के VP माहिम सिंह ने दिया. मॉल के वाइस प्रेजिडेंट ने खुलकर सभी सवालों के जवाब दिए. जीआईपी मॉल के वाइस प्रेजिडेंट माहिम सिंह ने कहा, ‘GIP के प्रोमोटर्स बदलेंगे. लेकिन यह अफवाह है कि मॉल बंद हो जाएगा.’ बता दें कि जीआईपी मॉल 147 एकड़ में बना हुआ है.

उन्होंने कहा कि कोविड के बाद मॉल में नए स्पेस बड़े ब्रांड ने लिए है. उन्होंने बताया, ‘मॉल में कोविड के बाद से सेल और फुटफाल भी बढ़ा है. शॉपिंग में 20 से 25 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. मॉल बंद होने की खबर गलत है. प्रोमोटर्स बदल रहे, लेकिन बंद नहीं होगा. आने वाले वक्त में जीआईपी मॉल का 100 एकड़ का एक हिस्सा भी डेवलप होगा.’ बता दें कि इस मॉल के एंटरटेनमेंट सिटी प्रमोटर द ग्रेट इंडिया प्लेस , गार्डन्स गैलेरिया मॉल , वर्ल्ड्स ऑफ वंडर, एम्यूजमेंट पार्क और किडजानिया को भी चलाते हैं. मॉल को 2000 करोड़ रुपए में बेचने की बात चल रही है.

READ More...  मुस्लिम लड़की ने सनातन धर्म अपनाया, धर्म की दीवार तोड़कर हिंदू प्रेमी के साथ लिए सात फेरे, देखें Pics

147 एकड़ एरिया में बना हुआ है जीआईपी मॉल
GIP मॉल करीब 147 एकड़ एरिया में बनाया गया है. 1.7 मिलियन वर्ग फुट एरिया इसमें डेवलप है. वहीं, बाकी एरिया अभी भी खाली है तो खरीदार इसका इस्तेमाल कमर्शियल बिल्डिंग को बनाने में भी कर सकते हैं. दरअसल जब मॉल बिकेगा तो इसका ट्रांसफर ऑफ मेमोरेंडम किया जाएगा, जिससे मिलने वाले चार्ज से नोएडा प्राधिकरण को एक बड़ा राजस्व मिलने की उम्मीद भी है.

साल 2007 में खुला था मॉल
साल 2007 में जब यहां मॉल बनकर तैयार हुआ था. तब यहां पर बड़ी संख्या में भीड़-भाड़ देखने को मिलती थी. लेकिन कोरोना के बाद से इस मॉल में भीड़ काफी कम हो गई है. मॉल साल 2007 में बनकर तैयार हुआ था. उस समय पर यह देश का सबसे बड़ा मॉल था. यहां पर कई बड़ी कंपनियों की शॉप पर थी. जीआईपी मॉल अब अपनी पुरानी रौनक खोता जा रहा है. इसके चलते मॉल में आने वाले लोगों की संख्या में भारी कमी आई है.

लोगों का नजर आता था हुजूम
करीब 15 साल पहले जब यह मॉल खुला तो लोगों का हुजूम नजर आता था. यहां पर खरीदारी करने से लेकर रेस्त्रां और फूड कोर्ट्स में खाने वालों की भीड़ लगी रहती थी. यहां पर खाने-पीने, शॉपिंग के अलावा मनोरंजन के लिए मल्टीप्लेक्स तो थे ही साथ ही यहां पर वर्ल्ड्स ऑफ वंडर एम्यूजमेंट पार्क और किडजानिया भी मौजूद हैं, जो बच्चों के लिए बड़ा आकर्षण का केंद्र है.

READ More...  'जदयू मुक्त' हुआ मणिपुर, बिहार में भाजपा 'जल्द' तोड़ देगी जदयू-राजद का गठबंधन: सुशील मोदी

Tags: Noida news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)