e0a497e0a583e0a4b9 e0a4aee0a482e0a4a4e0a58de0a4b0e0a580 e0a485e0a4aee0a4bfe0a4a4 e0a4b6e0a4bee0a4b9 e0a4a8e0a587 e0a4a6e0a4bfe0a4af
e0a497e0a583e0a4b9 e0a4aee0a482e0a4a4e0a58de0a4b0e0a580 e0a485e0a4aee0a4bfe0a4a4 e0a4b6e0a4bee0a4b9 e0a4a8e0a587 e0a4a6e0a4bfe0a4af 1

नई दिल्ली. केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में गुरुवार को गृह मंत्रालय ने नई दिल्ली में संघ राज्य क्षेत्रों के सम्मेलन का आयोजन किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संघ राज्य क्षेत्रों को देश के बाकी हिस्सों के लिए सुशासन और विकास का मॉडल बनाने के विजन को पूरा करने की दिशा में यह सम्मेलन अहम कदम है. केंद्रीय गृह मंत्री ने संघ राज्य क्षेत्रों को देश के लिए रोल मॉडल बनाने पर जोर देते हुए कहा कि यदि संघ राज्य क्षेत्रों की क्षमता का पूरी तरह से दोहन किया जाए, तो भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को हासिल करने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है.

केंद्रीय मंत्री ने संघ राज्य क्षेत्रों को 2047 के लिए अपना विजन तैयार करने का भी निर्देश दिया और कहा कि हर संघ राज्य क्षेत्र को अपनी विरासत पर गर्व करना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने सुरक्षित संघ राज्य क्षेत्र, फ्लैगशिप स्कीमों में परिपूर्णता, न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन तथा भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ शून्य सहनशीलता पर बल देते हुए सभी संघ राज्य क्षेत्रों से बेस्ट प्रैक्टिस का एक्सचेंज करने का आह्वान किया. उन्होंने कहा, ‘लक्ष्य सुस्पष्ट करें और जीवन में देश सेवा के लिए मिले इस मौक़े को पूरा करें.’

Tags: Amit shah

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  सीरम इंस्टीट्यूट में आग लगने पर राहुल गांधी ने जताया दुख, अग्निकांड ने ली 5 लोगों की जान