e0a497e0a58de0a4b0e0a588e0a482e0a4a1e0a4aee0a4bee0a4b8e0a58de0a49fe0a4b0 e0a4aae0a58de0a4b0e0a4b5e0a580e0a4a3 e0a4a0e0a4bfe0a4aae0a4b8
e0a497e0a58de0a4b0e0a588e0a482e0a4a1e0a4aee0a4bee0a4b8e0a58de0a49fe0a4b0 e0a4aae0a58de0a4b0e0a4b5e0a580e0a4a3 e0a4a0e0a4bfe0a4aae0a4b8 1

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने मंगलवार को शतरंज ओलंपियाड की मशाल ग्रैंडमास्टर प्रवीण ठिपसे को सौंपी. यह मशाल चेन्नई के समीप महाबलीपुरम में होने वाले 44वें शतरंज ओलंपियाड की रिले का हिस्सा है. पहली शतरंज ओलंपियाड मशाल रिले की शुरुआत दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में 19 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी. यह मशाल रिले 40 दिन में 75 शहरों की यात्रा करने के बाद तमिलनाडु के महाबलीपुरम में खत्म होगी. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी दी.

इस मौके पर उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के प्रत्येक व्यक्ति के लिए पहली शतरंज ओलंपिक मशाल की मेजबानी बड़े गर्व का लम्हा है. उन्होंने कहा, ‘कश्मीर से कन्याकुमारी की अपनी यात्रा के दौरान यह मशाल लोगों को एकजुट करके खेल भावना, ‘टीम वर्क’, शांति, सौहार्द और भाईचारे को बढ़ावा देगी.’

इसे भी देखें, पीएम मोदी ने रंगारंग कार्यक्रम में लॉन्च की शतरंज ओलंपियाड की मशाल

उप राज्यपाल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की खेल संस्कृति काफी मजबूत है और इस तरह के कार्यक्रम युवा खिलाड़ियों को प्रतिस्पर्धी शतरंज से जुड़ने के लिए प्रेरित करेंगे. उन्होंने आगे कहा, ‘आज लगभग सभी जिलों में शतरंज प्रतियोगिताओं का आयोजन हो रहा है. यहां से छह युवाओं को 44वें शतरंज ओलंपियाड के मुकाबले देखने और दिग्गज ग्रैंडमास्टर से मार्गदर्शन के लिए चेन्नई भेजा जाएगा.’

सिन्हा ने शतरंज संघ और जम्मू-कश्मीर खेल परिषद से कहा कि वे 2 जुलाई से श्रीनगर में शुरू हो रहे कश्मीर ओपन अंतरराष्ट्रीय फिडे रेटिंग शतरंज टूर्नामेंट को सफल बनाने के लिए हर संभव प्रयास करें.

Tags: Chess, Jammu kashmir, LG Manoj Sinha, Manoj Sinha, Sports news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  IND vs SA 4th T20: भारत और दक्षिण अफ्रीका की बड़ी कमजोरी सामने आई, एक गलती हार-जीत का पासा पलट देगी