e0a49ce0a4afe0a4aae0a581e0a4b0 e0a4aee0a587e0a49fe0a58de0a4b0e0a58b e0a495e0a587 e0a4b5e0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4bee0a4b0 e0a495
e0a49ce0a4afe0a4aae0a581e0a4b0 e0a4aee0a587e0a49fe0a58de0a4b0e0a58b e0a495e0a587 e0a4b5e0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4bee0a4b0 e0a495 1

हाइलाइट्स

मेट्रो फेज 1-सी से संचालन के बाद जयपुर मेट्रो का कुल सफर 14.60 किमी हो जाएगा
बड़ी चौपड़ से ट्रांसपोर्ट नगर फेज की कुल लंबाई 2.85 किलोमीटर, 590 मीटर एलिवेटेड रहेगा

रोशन शर्मा.

जयपुर. जयपुर मेट्रो (Jaipur Metro) के विस्तार के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने अहम निर्णय लेते हुए मेट्रो के फेज 1-सी के निर्माण के लिए 993.51 करोड़ रुपये की वित्तीय स्वीकृति (Sanctioned) दी है. यह फेज बड़ी चौपड़ को ट्रांसपोर्ट नगर (Badi Chopad to Transport Nagar) से जोड़ेगा, जिसकी कुल लंबाई 2.85 किलोमीटर होगी. वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में किए गए वादे के अनुरूप जयपुर मेट्रो के इस फेज के विस्तार से लाखों लोगों को फायदा होने से साथ-साथ यात्री भार में भी वृद्धि होगी.

मेट्रो के फेज 1-सी में 2.26 किलोमीटर भूमिगत और 590 मीटर हिस्सा एलिवेटेड रहेगा. परकोटा सीमा तक मेट्रो का संचालन भूमिगत होगा. इसके बाद दिल्ली रोड पर 0.59 किमी का सफर एलिवेटेड ट्रैक पर होगा. इसके लिए रामगंज चौपड़ पर भूमिगत और ट्रांसपोर्ट नगर पर एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन बनेगा. वर्तमान में जयपुर में मानसरोवर से बड़ी चौपड़ तक मेट्रो संचालित है.

आपके शहर से (जयपुर)

राजस्थान
जयपुर

राजस्थान
जयपुर

राजस्थान: 12 साल की मासूम बच्ची के पीछे पड़े थे 5 दरिंदे, 1 साल से एक रहे थे दुराचार

सैकड़ों कालोनियों के लोगों को मिलेगा फायदा

सरकार के प्रस्ताव के अनुसार जयपुर मेट्रो के फेज 1-सी के निर्माण के बाद बड़ी चौपड़ से दिल्ली-आगरा हाइवे पर ट्रांसपोर्ट नगर तक मेट्रो का संचालन हो सकेगा. मुख्यमंत्री के इस निर्णय से शहर की यातायात व्यवस्था में सुधार आएगा. साथ ही आमजन को दिल्ली-आगरा हाइवे तक मेट्रो की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी. परकोटे में विस्तार से निर्माण नगर, विद्युत नगर, ट्रांसपोर्ट नगर, मानसरोवर और पृथ्वीराज नगर उत्तर में बसी सैकड़ों कालोनियों के बाशिंदों के लिए आवाजाही सुगम हो सकेगी.

READ More...  जम्मू-कश्मीर: शोपियां जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकवादी मारे गए

मेट्रो के यात्री भार में होगी सकेगी बढ़ोत्तरी

अधिकारियों की मानें तो परकोटे में (चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक) मेट्रो का संचालन होने से यात्री भार बढ़ा है. पहले यात्री भार 20 हजार प्रतिदिन था, जो अब दो गुना बढ़कर 40 हजार प्रतिदिन हो गया है. मेट्रो फेज-1 सी से संचालन के बाद जयपुर मेट्रो का कुल सफर 14.60 किमी हो जाएगा. इसके अलावा दोनों चरणों का विस्तार पूरा होने पर यात्री भार बढ़कर सवा लाख यात्री प्रतिदिन होने का अनुमान है.

बजट में हुई थी मेट्रो विस्तार की घोषणा

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट में जयपुर मेट्रो का विस्तार करते हुए फेज 1-सी और फेज 1-डी के निर्माण की घोषणा की गई थी. राज्य सरकार विरासत के संरक्षण तथा जयपुर शहर के मूल ऐतिहासिक स्वरूप को बनाए रखने के लिए कृत संकल्पित है. राज्य सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भूमिगत निर्माण के लिए अत्याधुनिक मेट्रो रेल प्रौद्योगिकी का उपयोग करके चारदीवारी की विरासत को संरक्षित रखा जाए.

Tags: Ashok Gehlot Government, Budget, Jaipur metro, Jaipur news, Rajasthan news in hindi

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)