e0a4a4e0a4bee0a487e0a4b5e0a4bee0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a486e0a4afe0a4be 6 0 e0a4a4e0a580e0a4b5e0a58de0a4b0e0a4a4e0a4be e0a495e0a4be
e0a4a4e0a4bee0a487e0a4b5e0a4bee0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a486e0a4afe0a4be 6 0 e0a4a4e0a580e0a4b5e0a58de0a4b0e0a4a4e0a4be e0a495e0a4be 1

ताइपे. ताइवान में सोमवार सुबह 6.0 तीव्रता का भूकंप आया. इस दौरान जान माल के किसी तरह के नुकसान की तत्काल कोई खबर नहीं है.

ताइवान के ‘सेंट्रल वेदर ब्यूरो’ ने बताया कि स्थानीय समयानुसार सुबह 9 बजकर 5 मिनट पर हुलैन काउंटी में भूकंप आया. उसका केंद्र 6.8 किलोमीटर गहराई में था.

चीन के सरकारी प्रसारक ‘सीसीटीवी’ के अनुसार, भूकंप के झटके उत्तरी ताइपे सहित लगभग पूरे द्वीप में महसूस किए गए. ताइवान जलडमरूमध्य में भी इसका असर दिखा.
ताइवान के सेंट्रल वेदर ब्यूरो के अनुसार, लगभग आधे घंटे बाद दूसरा छोटा भूकंप आया. ताइवान नियमित रूप से भूकंप की चपेट में आता है, क्योंकि यह द्वीप दो टेक्टोनिक प्लेटों के जंक्शन के पास स्थित है.

जब तक भूकंप की तीव्रता 7.0 से अधिक न हो, द्वीप सूनामी की चेतावनी जारी नहीं करता है. 6.0 या उससे अधिक तीव्रता के कुछ भूकंप घातक साबित हो सकते हैं. हालांकि, बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि भूकंप कहां और किस गहराई पर आया.

क्यों आता है भूकंप?

पृथ्वी के अंदर 7 प्लेट्स हैं, जो लगातार घूमती रहती हैं. जहां ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है. बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं. जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं. नीचे की ऊर्जा बाहर आने का रास्ता खोजती हैं और डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है.

कैसे मापा जाता है भूकंप की तिव्रता और क्या है मापने का पैमाना?

भूंकप की जांच रिक्टर स्केल से होती है. इसे रिक्टर मैग्नीट्यूड टेस्ट स्केल कहा जाता है. रिक्टर स्केल पर भूकंप को 1 से 9 तक के आधार पर मापा जाता है. भूकंप को इसके केंद्र यानी एपीसेंटर से मापा जाता है. भूकंप के दौरान धरती के भीतर से जो ऊर्जा निकलती है, उसकी तीव्रता को इससे मापा जाता है. इसी तीव्रता से भूकंप के झटके की भयावहता का अंदाजा होता है. (एजेंसी इनपुट)

READ More...  LIVE: हमारे सपनों का भारत हम देख कर रहेंगे-भारतीय समुदाय से पीएम मोदी

Tags: China-Taiwan, Earthquake, Tremors

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)