e0a4a4e0a580e0a4b8e0a4b0e0a580 e0a4b5e0a482e0a4a6e0a587e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a49fe0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a486e0a49c e0a486
e0a4a4e0a580e0a4b8e0a4b0e0a580 e0a4b5e0a482e0a4a6e0a587e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a49fe0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a486e0a49c e0a486 1

हाइलाइट्स

रेलमंत्री दोपहर में करेंगे निरीक्षण
आरडीएसओ को की जाएगी हैंडओवर

नई दिल्‍ली. तीसरी वंदेभारत ट्रेन (Vande Bharat train) आज ट्रैक पर आ सकती है. आईसीएफ चेन्‍नई (ICF Chennai), जहां पर ट्रेन (train) का निर्माण हो रहा है, रेल मंत्री अश्विनी वैष्‍णव (Railway Minister Ashwini Vaishnav) स्‍वयं इसका निरीक्षण करने पहुंच रहे हैं. निरीक्षण के दौरान ट्रेन से संतुष्‍ट होने के बाद आरडीएसओ (Research Design and Standards Organisation) को ट्रेन हैंडओवर कर दी जाएगी. आरडीएसओ ट्रैक पर ट्रेन की जांच शुरू कर देगा.

भारतीय रेलवे की आईसीएफ चेन्‍नई में वंदेभारत ट्रेनों का निर्माण हो रहा है. तमाम नई ख्‍ूबियों के साथ तीसरी वंदेभारत ट्रेन तैयार हो गयी है. पिछले दिनों रेलमंत्री स्‍वयं आईसीएफ गए थे और ट्रेन का निरीक्षण किया था. चूंकि इस ट्रेन को 15 अगस्‍त से पहले ट्रैक उतारना है, इसलिए आज दोपहर में रेल मंत्री ट्रेन के निरीक्षण के लिए आईसीएफ पहुंच रहे हैं. आईसीएफ अधिकारियों के अनुसार रेल मंत्री के संतुष्‍ट होने के बाद आरडीएसओ को ट्रेन हैंडओवर कर दी जाएगी. इसके बाद आईसीएफ से बाहर ट्रेन को निकाल कर जांच शुरू कर दी जाएगी.

एक वर्ष में 75 वंदेभारत ट्रेन आएंगी

प्रधानमंत्री (Prime minister) ने पिछले साल 15 अगस्‍त को 75 वंदेभारत ट्रेनें चलाने की घोषणा की थी. इसी के तहत 15 अगस्‍त से पहले इन 75 ट्रेनों में से पहली ट्रेन को ट्रैक पर उतारने की शुरुआत की जा रही है. इसके बाद अगले एक साल तक 74 ट्रेनें और ट्रैक पर आ जाएंगी.

प्रति माह आएंगी 6 से 7 ट्रेनें
रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railway) के अनुसार तीसरी ट्रेन के निर्माण के बाद बची 74 वंदेभारत ट्रेनों का प्रोडक्‍टशन जल्‍दी जल्‍दी किया जाएगा. पहले शुरू के दो-तीन माह में प्रतिमाह दो से तीन वंदेभारत का निर्माण किया जाएगा. इसके बाद प्रतिमाह प्रोडक्‍टशन बढ़ाकर 6 से 7 तक किया जाएगा. इस तरह अगले वर्ष तक 75 या इससे अधिक ट्रेनें तैयार कर ली जाएंगी.

READ More...  केरल में मुर्गी के अंडे से निकल रही हरे रंग की जर्दी, रहस्य सुलझाने के लिए पहुंचे एक्सपर्ट्स

थोड़ा अलग होंगी नई वंदेभारत

रेलवे बोर्ड के अनुसार तकनीकी रूप में नई वंदेभारत एक्‍सप्रेस में बदलाव होंगे, लेकिन पैसेंजर की सुविधा के अनुसार सीटों में बदलाव किया जाएगा. मौजूदा वंदेभारत में सीट का पिछला हिस्‍सा ही मूव कर सकता है, जबकि आने वाले वाली ट्रेन सेट में पूरी सीट सुविधा अनुसार मूव कराई जा सकेगी. मौजूदा सीटों में सफर करने वाले पैसेंजरों को असुविधा होती है. इसी को ध्‍यान में रखते हुए बदलाव किए जा रहे हैं.

Tags: Indian railway, Indian Railway news, Vande bharat train

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)