e0a4a4e0a587e0a4b2e0a482e0a497e0a4bee0a4a8e0a4be e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a58be0a4b2e0a587 e0a4aae0a580e0a48fe0a4ae e0a4aee0a58b
e0a4a4e0a587e0a4b2e0a482e0a497e0a4bee0a4a8e0a4be e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a58be0a4b2e0a587 e0a4aae0a580e0a48fe0a4ae e0a4aee0a58b 1

हाइलाइट्स

पीएम मोदी ने तेलंगाना के पेद्दापल्ली जिले के रामागुंडम में यूरिया प्लांट राष्ट्र को समर्पित किया.
प्रधानमंत्री ने भद्राचलम रोड और सत्तुपल्ली के बीच नई रेलवे लाइन को भी हरी झंडी दिखाई.
पीएम मोदी ने कहा कि ये परियोजनाएं यहां खेती और उद्योग दोनों को बल देने वाली हैं.

हैदराबाद. दक्षिण भारत के दौरे पर निकेल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज तेलंगाना को 10 हजार करोड़ रुपये की सौगात दी और इसे तेलंगाना में खेती और उद्योग के विकास को नई ऊंचाइयां देने वाला बताया. पीएम मोदी ने यहां तेलंगाना के पेद्दापल्ली जिले के रामागुंडम में रामागुंडम फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल लिमिटेड (RFCL) का यूरिया प्लांट राष्ट्र को समर्पित किया. प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही भद्राचलम रोड और सत्तुपल्ली के बीच नई रेलवे लाइन भी राष्ट्र को समर्पित किया. यह रेल लाइन लगभग 1000 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है.

इस दौरान पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘आज 10 हज़ार करोड़ रुपये से ज्यादा की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण तेलंगाना के लिए हुआ है. ये परियोजनाएं यहां खेती और उद्योग दोनों को बल देने वाली हैं.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘कई विशेषज्ञ कह रहे हैं कि 1990 के बाद 30 साल में जितना विकास हुआ, उतना विकास अब सिर्फ कुछ वर्षों में होने वाला है. इतना अभूतपूर्व विश्वास आज दुनिया को भारत पर है, इसका कारण है पिछले 8 वर्ष में भारत में हुआ बदलाव. आज विकसित होने की आकांक्षा लिए, आत्मविश्वास से भरा हुआ नया भारत दुनिया के सामने है.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘फर्टिलाइजर प्लांट हो, नई रेलवे लाइन हो या हाईवे, इनसे औद्योगीकरण को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे. मैं इन विकासात्मक परियोजनाओं के लिए तेलंगाना के लोगों को बधाई देता हूं.’

READ More...  किसान आंदोलन: दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर हुआ दंगल

प्रधानमंत्री ने इस दौरान कहा कि दुनिया भले ही महामारी के बाद आर्थिक मंदी से जूझ रही है, लेकिन सभी विशेषज्ञों का कहना है कि भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर बढ़ रहा है. विकास हमारे लिए 24 घंटे, सातों दिन, 12 महीने, पूरे देश में चलने वाला मिशन है. हम एक प्रोजेक्ट का लोकार्पण करते हैं तो अनेक नए प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर देते हैं.

इससे पहले केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री भगवंत खुबा ने यूरिया प्लांट की जानकारी देते बताया था कि वर्ष 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद हैदराबाद से 225 किलोमीटर दूर रामागुंडम में विभिन्न कारणों से बंद हुए पांच यूरिया उत्पादन संयंत्र खोले गए हैं. खुबा ने कहा कि RFCL प्लांट की यूरिया की कुल सालाना उत्पादन क्षमता 12.7 लाख टन है.

Tags: Pm narendra modi, Telangana News

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)