Rains drench Delhi for second consecutive day- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में सोमवार को लगातार दूसरे दिन हल्की बारिश हुई।

नयी दिल्ली: दिल्ली में सोमवार को लगातार दूसरे दिन हल्की बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दिल्‍ली-एनसीआर में 5 जनवरी तक बारिश और उसके बाद शीतलहर का अलर्ट जारी किया है। वहीं 7 जनवरी के बाद यहां के तापमान में गिरावाट आ सकती है जिसके कारण ठंड बढ़ने की संभावना है। हालांकि आसमान में बादल छाए रहने के कारण न्यूनतम तापमान बढ़कर 11.4 डिग्री सेल्सियस हो गया। आईएमडी ने बताया कि सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस ऊपर, 11.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो बीते 22 दिन में सबसे अधिक है। अधिकतम तापमान 22.6 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा है।

ये भी पढ़ें: Covid-19 के बीच इन दो राज्यों में फैला एक और खतरनाक वायरस, पेड़ से गिर रहे मरे हुए कौवे, मचा हड़कंप

सफदरजंग वेधशाला में शाम साढ़े पांच बजे तक 1.7 मिमि बारिश दर्ज की गई। आयानगर मौसम केंद्र में 4.4 मिमि, जाफरपुर में दो मिमि, पालम में 1.4, लोधी रोड में 1.6 मिमि और रिज में एक मिमि बारिश रिकॉर्ड की गई। आईएमडी ने कहा कि मंगलवार को भी मध्यम स्तर की बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। इससे पहले, कोहरे के कारण दृश्यता कम हो गई। सुबह करीब साढ़े सात बजे सफदरजंग वेधशाला में दृश्यता 50 मीटर तथा पालम में 150 मीटर दर्ज की गई। 

ये भी पढ़ें: इस राज्य में स्कूल खुलते ही दो शिक्षक पाए गए कोरोना पॉजिटिव, छात्रों की संख्या रही अच्छी

READ More...  क्या सभी के लिए जरूरी है Covid-19 Vaccine? वैक्सीन से जुड़े हर सवाल स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिया जवाब

आईएमडी के अनुसार, शून्य से 50 मीटर के बीच दृश्यता होने पर कोहरा ‘बेहद घना’, 50 से 200 मीटर के बीच ‘घना’, 201 से 500 के मीटर के बीच ‘मध्यम’ और 501 से 1,000 मीटर के बीच दृश्यता होने पर कोहरे को ‘हल्का’ माना जाता है। उत्तर पश्चिमी भारत को प्रभावित करने वाले पश्चिम विक्षोभ के कारण रविवार को दिल्ली में तेज बारिश हुई। 

सफदरजंग वेधशाला में शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे से लेकर रविवार दोपहर ढाई बजे तक 39.9 मिमि बारिश दर्ज की गई। एक अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ों में बर्फबारी हो रही है। इस विक्षोभ के खत्म होने के बाद तापमान फिर गिरकर चार से पांच डिग्री सेल्सियस के आसपास आ जाएगा। शुक्रवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस हो गया था जो बीते 15 वर्षों में सबसे कम था। 

ये भी पढ़ें: कोरोना से बचाने वाली दवा बिगाड़ सकती है आपकी ‘सेक्स लाइफ’, हो सकती है यह गंभीर बीमारी, WHO की चेतावनी

बेहद घने कोहरे के कारण दृश्यता गिरकर ‘शून्य’ मीटर हो गई थी। इससे पहले आठ जनवरी 2006 को दिल्ली में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था राष्ट्रीय राजधानी में अभी तक का सबसे कम तापमान जनवरी 1935 में शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया था। आईएमडी ने बताया कि पिछले साल जनवरी में सबसे कम न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

Original Source(india TV, All rights reserve)