e0a4a7e0a4a8 e0a49ce0a581e0a49fe0a4bee0a4a8e0a587 e0a495e0a587 e0a4b2e0a4bfe0a48f e0a486e0a4a4e0a482e0a495e0a580 e0a495e0a4b0 e0a4b0
e0a4a7e0a4a8 e0a49ce0a581e0a49fe0a4bee0a4a8e0a587 e0a495e0a587 e0a4b2e0a4bfe0a48f e0a486e0a4a4e0a482e0a495e0a580 e0a495e0a4b0 e0a4b0 1

नई दिल्ली: राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) के महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने गुरुवार को कहा कि भारत के पास साक्ष्य हैं कि सोशल मीडिया का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के वास्ते धन जुटाने के लिये किया जा रहा है. उन्होंने इस बात को रेखांकित किया कि आतंकवाद के वित्त पोषण से मुकाबला करने के बारे में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मंत्रिस्तरीय सम्मेलन में इस विषय पर चर्चा होगी. बैठक से पहले गुप्ता ने संवाददाताओं से कहा कि सम्मेलन में पाकिस्तान और अफगानिस्तान हिस्सा नहीं ले रहे हैं जबकि चीन ने इसमें हिस्सा लेने की अभी पुष्टि नहीं की है.

राजधानी नई दिल्ली में आतंकवाद-रोधी वित्तपोषण पर ‘आतंक के लिए कोई धन नहीं’ (नो मनी फॉर टेरर) मंत्रिस्तरीय सम्मेलन का आयोजन 18-19 नवंबर को हो रहा है. इसकी मेजबानी गृह मंत्रालय कर रहा है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शुक्रवार को इसका उद्घाटन करेंगे तथा इसमें गृह मंत्री अमित शाह हिस्सा लेंगे. यह पूछे जाने पर कि क्या इसमें पाकिस्तान, चीन, अफगानिस्तान को आमंत्रित किया गया है, विदेश मंत्रालय में सचिव (पश्चिम) संजय वर्मा ने कहा, ‘‘चीन को आमंत्रित किया गया है.’’ हालांकि उन्होंने इस सम्मेलन में पाकिस्तान, अफगानिस्तान के हिस्सा लेने के बारे में कुछ नहीं कहा.

गुप्ता ने कहा कि आतंकी वित्त पोषण महत्वपूर्ण मुद्दा है और इस पर चर्चा होनी चाहिए, चाहे वह हवाला जैसी आतंकी गतिविधियों के वित्त पोषण का पारंपरिक तरीका हो अथवा बेतार हस्तांतरण या नकद कुरियर की व्यवस्था के जरिये हो. यह तीसरा मंत्री स्तरीय सम्मेलन है. इससे पहले यह सम्मेलन अप्रैल 2018 में पेरिस में और नवंबर 2019 में मेलबर्न में आयोजित किया गया था. सम्मेलन में दुनिया भर के लगभग 450 प्रतिनिधि भाग लेंगे. इनमें मंत्री, बहुपक्षीय संगठनों के प्रमुख और वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख शामिल हैं.

सम्मेलन के दौरान चार सत्रों में विचार-विमर्श किया जाएगा, जो ‘आतंकवाद और आतंकवादी वित्तपोषण में वैश्विक रुझान’, ‘आतंकवाद के लिए धन के औपचारिक और अनौपचारिक चैनलों का उपयोग’, ‘उभरती प्रौद्योगिकियां और आतंकवादी वित्तपोषण’ और ‘आतंकवादी वित्तपोषण का मुकाबला करने में चुनौतियों के समाधान के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग’ पर केंद्रित होंगे. 

READ More...  धर्मशाला में लिखी जा रही देश के नवनिर्माण की गाथा, पीएम मोदी ने इन 3 विषयों पर की मुख्य सचिवों से चर्चा

Tags: Ajit Doval, Home Minister Amit Shah, NIA, PM Modi, Union home ministry

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)