e0a4a8e0a482e0a4a6e0a580e0a497e0a58de0a4b0e0a4bee0a4ae e0a4aee0a587e0a482 e0a4b8e0a4b9e0a495e0a4bee0a4b0e0a580 e0a4b8e0a4aee0a4bf
e0a4a8e0a482e0a4a6e0a580e0a497e0a58de0a4b0e0a4bee0a4ae e0a4aee0a587e0a482 e0a4b8e0a4b9e0a495e0a4bee0a4b0e0a580 e0a4b8e0a4aee0a4bf 1

कोलकाताः कभी तृणमूल कांग्रेस का गढ़ रहे नंदीग्राम में रविवार को भाजपा ने एक सहकारी कृषि समिति के चुनाव में बड़ी जीत दर्ज की. लंबे समय तक तृणमूल के कब्जे वाली भेकुटिया सहकारी कृषि विकास समिति पर भाजपा ने कब्जा कर लिया है. इस चुनाव को लेकर रविवार सुबह से ही तनाव का माहौल रहा. स्थिति को संभालने के लिए इलाके में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी. दोपहर में नतीजों की घोषणा हुई, जिसमें भाजपा ने 12 में से 11 सीटों पर जीत हासिल की है. दूसरी ओर, तृणमूल कांग्रेस को केवल 1 सीट से संतोष करना पड़ा. यह सीट भी उसने केवल 1 वोट के अंतर से जीता. बंगाल के राजनीतिक हलकों में भाजपा की यह जीत काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है.

वहीं, टीएमसी ने बीजेपी पर चुनाव में गड़बड़ी करने का आरोप लगाया है. नंदीग्राम तृणमूल प्रखंड के अध्यक्ष बप्पादित्य कर ने कहा कि हम शांतिपूर्ण मतदान चाहते थे, लेकिन भाजपा ने बाहरी लोगों को लाकर जीत हासिल की है. उन्होंने आरोप लगाया कि वोटरों को प्रभावित करने के लिए भाजपा बाहरी लोगों को बूथ तक ले गई. दूसरी तरफ, भाजपा के पूर्व मेदिनीपुर के जिला उपाध्यक्ष प्रलोय पाल ने कहा कि जहां मतदाता बिना डरे वोट कर पाएंगे, वहां तृणमूल हारेगी और भाजपा जीतेगी. ऐसा ही नंदीग्राम के भेकुटिया में हुआ. तृणमूल का बाहरी लोगों को लाने का आरोप पूरी तरह गलत है. उन्होंने कहा कि पंचायत व लोकसभा चुनाव में भी भाजपा की जीत होगी. पश्चिम बंगाल में भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरी ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार पर राज्य में मुख्य विपक्षी भाजपा लगातार हमलावर है.

READ More...  भविष्य में आम सर्दी-जुकाम जैसा बन सकता है कोविड-19, वैज्ञानिकों ने अध्ययन में कही ये बातें

इस बीच, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष व भाजपा विधायक सुवेंदु अधिकारी ने टीएमसी को फिर चुनौती देते हुए कहा है कि दिसंबर के बाद ममता बनर्जी की इस भ्रष्ट सरकार को नहीं चलने दूंगा. बेहला में पार्टी के एक कार्यक्रम में उन्होंने यह बात कही. इससे पहले भी सुवेंदु अधिकारी हाल के दिनों में कई बार दावा कर चुके हैं कि दिसंबर के बाद ममता सरकार नहीं रहेगी. गौरतलब है कि नंदीग्राम को टीएमसी का गढ़ अधिकारी परिवार ने ही बनाया था. सुवेंदु, उनके पिता और भाई तीनों टीएमसी में थे. अब जबकि सुवेंदु के साथ उनका परिवार भी बीजेपी के साथ आ चुका है, नंदीग्राम में टीएमसी का किला भी ध्वस्त होता नजर आ रहा है. पिछले विधानसभा चुनाव में भी सुवेंदु अधिकारी ने नंदीग्राम से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को हरा दिया था.

Tags: BJP VS TMC, Nandigram, West Bengal BJP

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)