Cracks in nepal lake uttarakhand lakhimpur kheri sharda river 50 villages on flood alert नेपाल की झी- India TV Hindi
Image Source : FILE  नेपाल की झील में आई दरारें, यूपी की शारदा नदी में आ सकता है उफान, अलर्ट पर 50 गांव

लखीमपुर खीरी. अभी चमोली में आई आपदा के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन चल ही रहा है। यहां उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के कई लोग लापता हो गए हैं। लखीमपुरी खीरी अभी इस आपदा से निपट रही रहा है कि एक और चिंता करने वाली सूचना जिला प्रशासन को नेपाल द्वारा दी गई है। नेपाल के कंचनपुर जिले के अधिकारियों द्वारा लखीमपुर के अधिकारियों को दी गई सूचना के अनुसार, उनके यहां एक झील में मरम्मत का काम किया जा रह है, इस झील में दरारें आ गई हैं। जिस वजह से नेपाल में महाकाली के नाम से जानी जाने वाली शारदा नदी में उफान आने की भी संभावना है।

पढ़ें- गुलाम नबी आजाद की राज्यसभा से विदाई पर भावुक हुए प्रधानमंत्री मोदी, देखिए वीडियो

इस अलर्ट में आगे कहा गया, धारचूला में नदी के पास स्थित झील के चारों ओर का कॉन्क्रीट कमजोर पड़ गया है और इस पर अभी मरम्मत का काम चल रहा है। हालांकि लखीमपुर खीरी के अधिकारियों ने कहा है कि उत्तराखंड में ग्लेशियर के फटने का झील की दरारों से कोई सीधा वास्ता नहीं है और चिंता की भी कोई बात नहीं है। 

पढ़ें- दाह संस्कार से लौट रहे थे लोग, रास्ते में ट्रक से हुई गाड़ी की टक्कर, 6 की मौत, कई घायल

इस बीच, लखीमपुर खीरी और पीलीभीत में शारदा नदी के पास स्थित 50 से अधिक गांवों के निवासियों को सतर्क कर दिया गया है। अधिकारियों ने कहा, “जिला प्रशासन द्वारा जल स्तर की निगरानी की जा रही है और वे बनबसा बैराज के कर्मचारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं। जरूरत पड़ने पर गांवों को खाली कराया जा सकता है।”

READ More...  नोएडा: होटल कर्मचारी ने फांसी लगाकर दी जान

पढ़ें- Chamoli Disaster: टनल से रेस्क्यू गए लोगों के शरीर में दर्द, घंटों तक लोहे की सरियों पर लटके रहे

लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह ने कहा, “घबराने की कोई बात नहीं है। यहां के एक बांध पर थोड़ी दरारें थीं और हमने इसे लेकर सतर्कता बरती। जांच के बाद अब हम लगातार नदी में जल स्तर की निगरानी कर रहे हैं और बैराज के अधिकारियों के साथ नियमित संपर्क में हैं।” उन्होंने आगे कहा, “फिलहाल तक तो किसी बड़ी लीक के होने की संभावना नहीं है क्योंकि दरारों के ठीक होने की उम्मीद है। किसी भी प्रतिकूल मामले की स्थिति में हमारे पास गांवों को खाली कराने के लिए पर्याप्त समय है।”

पढ़ें- Chamoli Disaster: उत्तर प्रदेश के 70 लोग लापता, परिवारों में छाई मायूसी

Original Source(india TV, All rights reserve)