e0a4aae0a482e0a4b8e0a4a6 e0a495e0a580 e0a49ce0a580e0a482e0a4b8 e0a4a8e0a4b9e0a580e0a482 e0a4a6e0a4bfe0a496e0a4bee0a4a8e0a587 e0a4aa
e0a4aae0a482e0a4b8e0a4a6 e0a495e0a580 e0a49ce0a580e0a482e0a4b8 e0a4a8e0a4b9e0a580e0a482 e0a4a6e0a4bfe0a496e0a4bee0a4a8e0a587 e0a4aa 1

सुपौलएक घंटा पहले

पंसद की जींस नहीं दिखाने पर दुकान जलाई

सुपौल में एक महिला कपड़े की दुकानदार ने ग्राहक को उसके मनपसंद कीमत पर जिन्स पैंट नहीं दिया तो दो दोस्तों के साथ मिलकर उस कपड़े की दुकान में आग लगा दी। रात के अंधेरे में दुकान में आग लगा कर भाग रहे। दो दोस्तों में से एक को ग्रामीण ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।

वहीं पुलिस मामले की कानूनी कार्रवाई में जुट गई है। दरअसल यह घटना सुपौल जिले के करजाइन थाना इलाके के बायसी पंचायत के दहगामा चौक वार्ड 03 की है। करजाइन थाना इलाके के बायसी पंचायत के वार्ड 01 की रहने वाली 35 वर्षीय शमीना खातून पति मो जिब्राइल गाँव के ही दहगमा चौक के वार्ड 03 में वो बिगत कई वर्षो से कपड़े की दुकान चला कर जीविकापार्जन कर रही। मगर शुक्रवार के रात करीब एक बजे दो युवक शमीना खातून के कपड़े दुकान को पेट्रोल डाल करके आग लगाकर भागने के दौरान स्थानीय ग्रामीणों ने एक युवक को पकड़ लिया।

आरोपी युवक को ग्रामीण के द्वारा बंधक बनाकर रात भर खूटे में बांधकर रखा गया। बंधक बने आरोपी ने अपना नाम संजय कुमार मेहता पिता रामनारायण मेहता बताया जिसका घर करजाइन थाना इलाके के बायसी पंचायत स्थित डुमरी गांव के वार्ड 04 निवासी के रूप मे पहचान हुई है। वही उसके साथ आए हुए दूसरे साथी का नाम उसने विनोद कुमार मेहता पिता किशोरी मेहता बायसी पंचायत के डुमरी गाँव के निवासी होने की जानकारी दीं।

READ More...  बीच-बाजार युवती को छेड़ा...लोगों ने जमकर पीटा:कटिहार में लड़की से की अश्लीलता, हर किसी से लड़ता दिखा; पुलिस से भी हाथापाई

स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा सुबह करीब 4 बजे करजाइन थाना के थानाध्यक्ष संजीव कुमार को फोन पर कपड़े की दुकान में आग लगाने वाले आरोपी पकड़े जाने की जानकारी दी गई। इधर करजाइन थाना अध्यक्ष संजीव कुमार अपने पुलिस बल के साथ पहुंचे। जहां करजाइन थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने स्थानीय लोगों से यह सवाल कर दिया क्या सबूत है कि इसने कपडे की दुकान मे आग लगाई है जो आप इसे बंधक बनाए हुए हैं। बस इतनी सी बात पर स्थानीय लोगों की भीड़ भड़क गई।

सुबह 4:00 बजे से लेकर सुबह 8:00 बजे तक करजाइन थानाध्यक्ष संजीव कुमार को उसे ले जाने नहीं दिया। तमाम लोगों ने एक सुर में कहा कि पुलिस के वरीय अधिकारी आएंगे। तभी इसको यहां से जाने दिया जाएगा। इसके बाद सुबह करीब 9 बजे वीरपुर अनुमंडल के इंस्पेक्टर केबी सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। जिनके आश्वासन के बाद स्थानीय लोगों का गुस्सा शांत हो सका। कपड़े की दुकान चलाने वाली शमीना खातून ने बताया की उससे कुछ दिन पहले ही विनोद कुमार मेहता के द्वारा उसकी दुकान पर आया गया था।

इस दौरान उसने एक जींस पसंद की। मगर उनके मनपसंद कीमत के अनुसार जब दुकानदार ने उसे नहीं दिया था तो उस वक्त उसने धमकी दी थी। कि वह उसके इस दुकान में आग लगा देगा। बंधक बना आरोपी संजय कुमार मेहता ने कहा कि स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा उसे चोर चोर कह कर रात में पकड़ लिया गया है। जबकि वो अपने दोस्त विनोद कुमार के बहकावे में आकर इधर चलाया था। हालांकि बीरपुर इंस्पेक्टर केवी सिंह ने कहा कि लिखित महिला के द्वारा आवेदन दिए जाने पर आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल करजाइन थाने की पुलिस पीड़ित महिला दुकानदार और आरोपी शख्स को गाड़ी में बिठा कर थाने ले गई है।

READ More...  भागलपुर में सिल्क कारोबारी को गोलियों से भूना, मौत:दुकान बंद कर घर के लिए निकल रहे थे, अपराधियों ने बरसाई गोलियां

खबरें और भी हैं…

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)