e0a4aae0a4b6e0a58de0a49ae0a4bfe0a4ae e0a4ace0a482e0a497e0a4bee0a4b2 e0a4b5e0a4bfe0a4a7e0a4bee0a4a8e0a4b8e0a4ade0a4be e0a4aee0a587
e0a4aae0a4b6e0a58de0a49ae0a4bfe0a4ae e0a4ace0a482e0a497e0a4bee0a4b2 e0a4b5e0a4bfe0a4a7e0a4bee0a4a8e0a4b8e0a4ade0a4be e0a4aee0a587 1

हाइलाइट्स

पश्चिम बंगाल विधानसभा में रहा अनोखा नजारा, ममता ने शुभेंदु को बुलाया
मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी और विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के बीच हुई चर्चा
शुभेंदु अधिकारी ने इस सौजन्‍य भेंट बताया, कहा- सहज बातें हुई

कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा में शुक्रवार को हैरान कर देने वाली राजनीतिक घटना घटी जिसमें मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के साथ चाय पर चर्चा की. इसका आमंत्रण खुद ममता बनर्जी ने दिया था. भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी अपने साथ विधायक अग्निमित्रा पॉल और मनोज टिग्गा को लेकर गए थे. वे विधानसभा स्थित सीएम के कमरे में गए और इसे सौजन्‍य भेंट बताया. शुभेंदु अधिकारी, ममता बनर्जी के पुराने सहयोगी रहे हैं जो 2021 के चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो गए थे.

मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी और विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के बीच विधानसभा में पहली बार बैठक हुई. बंगाल की राजनीति के लिए यह नजारा आश्‍चर्यजनक रहा. इस बैठक के बाद शुभेंदु अधिकारी ने मीडिया को बताया कि यह एक सामान्‍य मुलाकात थी और सहज चर्चा हुई. दरअसल दो दिन पहले ही बंगाल के नए राज्‍यपाल सीवी आनंद बोस ने जब कार्यभार संभाला था तब शपथ के दौरान हंगामा हुआ था और इसको लेकर नाराजगी थी. इस मामले में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने राज्‍य सरकार पर निशाना साधा था.

सरकारी कार्यक्रमों में शामिल हों शुभेंदु अधिकारी: ममता  

तब शुभेंदु ने कहा था कि सरकार की व्‍यवस्‍था सही नहीं थी ऐसे में हंगामा होना ही था. वे इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए थे. शुभेंदु अधिकारी के साथ चर्चा के बाद मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने ही चाय पर चर्चा के लिए आमंत्रण दिया था. यह सौजन्‍य भेंट थी, इसमें मैंने उनसे कहा कि वे विभिन्न सरकारी कार्यक्रमों में शामिल हों. इधर, शुभेंदु अधिकारी ने आरोप लगाया कि उनको सरकारी कार्यक्रम में आमंत्रण नहीं दिया जाता है.

READ More...  बेंगलुरु ईदगाह मैदान मामले की सुनवाई थोड़ी देर में सुप्रीम कोर्ट में शुरू, CJI ने दिया ये आदेश

Tags: CM Mamata Banerjee, Suvendu Adhikari, West bengal

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)