Schools to reopen for students of Classes 5 to 12 in Punjab from Jan 17- India TV Hindi
Image Source : PTI स्कूल खुलने का समय सुबह 10 बजे से 3 बजे तक रहेगा।

चंडीगढ़: पंजाब सरकार ने बुधवार को कक्षा पांच से 12वीं तक के छात्रों के लिये सभी स्कूलों को 7 जनवरी से खोलने का फैसला लिया। राज्य के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा कि अभिभावकों की मांग पर राज्य सरकार ने सभी सरकारी, अर्धसरकारी और निजी स्कूलों को 7 जनवरी से खोलने का फैसला लिया है। यहां जारी एक बयान में सिंगला ने कहा कि स्कूल खुलने का समय सुबह 10 बजे से 3 बजे तक रहेगा। मंत्री ने कहा कि सिर्फ कक्षा 5 से 12 तक के छात्रों को स्कूलों में आकर पढ़ाई की अनुमति होगी। 

ये भी पढ़ें: जेल से छूट रहा है 200 लोगों की जान लेने वाला इस देश का सबसे कुख्यात आतंकी Abu Bakar Bashir

सिंगला ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अपनी सहमति प्रदान करने के साथ सभी स्कूलों के प्रबंधन को परिसर में कोविड-19 दिशा निर्देशों के सख्ती से पालन के निर्देश दिए हैं। छात्रों को स्‍कूल के भीतर सभी जगहों पर सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा।

करना होगा सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन

कक्षा में बैठने की व्यवस्था भी डिस्‍टेंसिंग के नियमों के साथ ही किया जाएगा। छात्रों के अलावा टीचर्स और स्‍टाफ को भी सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। बता दें कि पंजाब पहला ऐसा राज्य बन गया है, जो पांचवी से 12वीं कक्षा तक के स्कूल खोलने का निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें: Bird Flu को लेकर केरल में राजकीय आपदा घोषित, मंदसौर-बंगलुरु में चिकन-अंडे की दुकानें बंद करने का आदेश

READ More...  बॉलीवुड के गपशप वीडियो

इसके अलावा अन्‍य राज्‍यों में भी स्‍कूल अब दोबारा खोले जाने लगे हैं। गुजरात में 10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए सोमवार 11 जनवरी से स्‍कूल खुलने जा रहे हैं। स्‍कूलों में एंट्री के लिए फेस मास्‍क, सोशल डिस्‍टेंसिंग तथा पैरेंटल परमिशन लेटर की अनिवार्यता है।

गुजरात के शिक्षा मंत्री शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडासमा ने घोषणा की है कि राज्य में कोविड-19 से संबंधित दिशानिर्देशों का पालन कराते हुए कक्षा 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए 11 जनवरी से स्कूलों को फिर से खोला जाएगा। बता दें कि इससे पहले गुजरात में 23 नवंबर से स्कूलों को फिर से खोले जाने की घोषणा की गई थी लेकिन, सरकार ने महामारी की स्थिति को देखते हुए अपने इस फैसले को निरस्त कर दिया था।

Original Source(india TV, All rights reserve)