e0a4aae0a4bee0a495e0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4bee0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a497e0a482e0a4ade0a580e0a4b0 e0a48ae0a4b0e0a58de0a49c
e0a4aae0a4bee0a495e0a4bfe0a4b8e0a58de0a4a4e0a4bee0a4a8 e0a4aee0a587e0a482 e0a497e0a482e0a4ade0a580e0a4b0 e0a48ae0a4b0e0a58de0a49c 1

नई दिल्ली. महंगाई से बेहाल पाकिस्तान में अब बिजली का गंभीर संकट पैदा हो गया है. देश के विभिन्न भागों में 12-12 घंटे की बिजली कटौती की जा रही है. बिजली विभाग के मुताबिक पाकिस्तान में करीब 5000 मेगावाट बिजली की कमी है. इसे पूरा करने में पाकिस्तान का दम निकल रहा है. द पाकिस्तान डेली अखबार के मुताबिक पाकिस्तान में 27,737 मेगावाट बिजली की मांग है जबकि 22,108 मेगावाट बिजली ही पाकिस्तान में बन रही है. ऐसे में लोगों को इस भीषण गर्मी में जीना मुहाल हो गया है. कई जगहों पर कामकाज ठप करना पड़ रहा है.

परमाणु ऊर्जा से 1234 मेगावाट बिजली का उत्पादन
द पाकिस्तान डेली के मुताबिक पाकिस्तान में 5344 मेगावाट बिजली का उत्पादन हाइड्रोइलेक्ट्रिक यानी पानी से होता है. पाकिस्तान के थर्मल प्लांट से1590 मेगावाट बिजली पैदा होती है. इनमें निजी क्षेत्र से 1209 मेगावाट बिजली बनाई जाती है. इसके अलावा पाकिस्तान में बिजली बनाने में पवन चक्की का भी अच्छा खासा योगदान है. पाकिस्तान में 1643 मेगावाट बिजली का उत्पादन पवन ऊर्जा से होता है और 119 मेगावाट बिजली का उत्पादन सौर ऊर्जा से होता है. पाकिस्तान में परमाणु ऊर्जा से 1234 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है.

इस्लामाबाद में 4 घंटे बिजली की कटौती
सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भी चार घंटे की बिजली कटौती की जा रही है. पाकिस्तान में बिजली संकट पिछले 10 दिनों से विकराल रूप लेता जा रहा है. कुछ दिन पहले यहां 16 घंटे की बिजली कटौती की गई थी. भारी बिजली कटौती के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इससे लोगों में गुस्सा है और सोशल मीडिया पर सरकार को कोस रहे हैं. लोगों का कहना है कि सरकार आम आदमी की ओर ध्यान नहीं दे रही है और बिजली के क्षेत्र में किए गए वादे को भी पूरा नहीं कर पा रही है. बिजली कटौती के कारण कई जगहों पर काम काज ठप हो गया है.

READ More...  20 साल से ‘मिशन पंख’ चला रहा ये शख्स, आजाद करा दिए 20 हजार से ज्यादा तोते

Tags: Electricity, Pakistan, Pakistan news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)