e0a4aae0a580e0a4aae0a4b2 e0a4ace0a4b0e0a497e0a4a6 e0a4b8e0a4aee0a587e0a4a4 e0a487e0a4a8 3 e0a4aae0a587e0a4a1e0a4bce0a58be0a482 e0a495
e0a4aae0a580e0a4aae0a4b2 e0a4ace0a4b0e0a497e0a4a6 e0a4b8e0a4aee0a587e0a4a4 e0a487e0a4a8 3 e0a4aae0a587e0a4a1e0a4bce0a58be0a482 e0a495 1

हाइलाइट्स

पूजा-पाठ में केले के पेड़ के पत्तों का उपयोग किया जाता है.
केले के पेड़ में भगवान विष्णु वास करते हैं.

Ped Ko Kalawa Bandhne Ke Fayde : हिंदू धर्म में की जाने वाली हर पूजा-पाठ के बाद रक्षा सूत्र के रूप में कलावा बांधा जाता है. हिंदू धर्म में कई ऐसी पूजाएं होती हैं, जिनमें पेड़-पौधों को भी कलावा बांधा जाता है. ऐसे बहुत से पेड़ पौधे होते हैं, जो व्यक्ति के जीवन में अहम स्थान रखते हैं. ऐसा माना जाता है कि इन पेड़-पौधों को लगाने और उनकी सेवा करने मात्र से व्यक्ति धन और ऐश्वर्य प्राप्त कर सकता है. यदि बात करें ज्योतिषशास्त्र की तो ज्योतिष शास्त्र में ऐसे पांच पेड़ पौधों के बारे में बताया गया है, जिनमें कलावा बांधने से व्यक्ति धन प्राप्त कर सकता है. इस विषय में अधिक जानकारी दे रहे हैं भोपाल निवासी ज्योतिषी एवं वास्तु सलाहकार पंडित हितेंद्र कुमार शर्मा.

पीपल का पेड़

हिंदू धर्म में पीपल के पेड़ को एक पवित्र पेड़ माना गया है. ऐसा माना जाता है कि पीपल के पेड़ में ब्रह्मा, विष्णु और भगवान शिव का वास होता है. इसके अलावा पीपल के पत्तों में समस्त देवी-देवताओं का वास भी माना गया है. हिंदू धर्म शास्त्रों में पीपल के पेड़ की पूजा करने का भी विधान बताया गया है. यदि कोई व्यक्ति मंगलवार और शुक्रवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करके उसमें कलावा बांधे तो ऐसा करने से उसके घर में सकारात्मकता आती है.

यह भी पढ़ें – Kale Chawal Ke Upay: अच्छी नौकरी और सेहत के लिए अपनाएं काले चावल के 4 अचूक उपाय

READ More...  3 जून 2022 का राशिफल: कर्क, सिंह, कन्या राशि वाले विवाह योग्य जातकों का रिश्ता पक्का हो सकता है

तुलसी का पौधा

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को माता लक्ष्मी का रूप माना जाता है. यह एक अत्यंत पवित्र पौधा माना गया है. तुलसी के पौधे को घर में लगाकर उसका पूजन करने का विधान है. मान्यता के अनुसार, तुलसी का पौधा लगाने से घर का वास्तु दोष दूर होता है. इसके अलावा तुलसी के पौधे के आगे दीपक जलाने से और तुलसी में कलावा बांधने से तुलसी मैया की कृपा भी हमेशा बनी रहती है. ऐसा माना जाता है कि तुलसी में कलावा बांधने से घर परिवार पर कोई विपत्ति नहीं आती.

बरगद का पेड़

हिंदू धर्म शास्त्रों में बरगद के पेड़ की पूजा करने का विधान बताया गया है. बरगद के पेड़ को वटवृक्ष भी कहा जाता है. महिलाएं वट सावित्री व्रत के दौरान बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं. माना जाता है कि बरगद के पेड़ की पूजा करने के बाद उसमें कलावा बांधने से सुहागिन स्त्रियों के सुहाग की रक्षा होती है और अकाल मृत्यु जैसे योग टल जाते हैं.

शमी का पौधा

शमी का पौधा भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है. इसके अलावा, शमी का पौधा शनिदेव को भी प्रिय है. भगवान शिव और शनिदेव की कृपा पाने के लिए और शनि के दोष से बचने के लिए शमी के पौधे को घर में लगाने की सलाह दी जाती है. इसके अलावा यदि शमी के पौधे को कलावा बांधा जाए तो ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं और घर में राहु का दुष्प्रभाव भी कम होता है.

यह भी पढ़ें – गलत दिशा में बने टॉयलेट, किचन स्वास्थ्य को करते हैं प्रभावित, वास्तु की इन बातों का रखेंगे ध्यान, तो कभी नहीं होगी सेहत खराब

READ More...  Thursday Ka Rashifal: आज जीवनसाथी की रहेगी चिंता, समाज में मिलेगा सम्मान, पढ़ें अपना राशिफल

केले का पेड़

हिंदू धर्म की हर पूजा-पाठ में केले के पेड़ के पत्तों का उपयोग किया जाता है. केले के पेड़ को बहुत ही शुभ माना जाता है. ऐसा मानते हैं कि केले के पेड़ में भगवान विष्णु वास करते हैं. यदि केले के पेड़ की पूजा के साथ-साथ उसमें कलावा भी बांधा जाए तो ऐसा करने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है. साथ ही माता लक्ष्मी का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है. यदि कलावा गुरुवार के दिन बांधा जाए तो इससे बृहस्पति देव का भी शुभाशीष प्राप्त होता है.

Tags: Astrology, Dharma Aastha, Religion

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)