e0a4aae0a581e0a4b0e0a581e0a4b7e0a58be0a482 e0a495e0a580 e0a4aae0a58de0a4b0e0a49ce0a4a8e0a4a8 e0a495e0a58de0a4b7e0a4aee0a4a4e0a4be
e0a4aae0a581e0a4b0e0a581e0a4b7e0a58be0a482 e0a495e0a580 e0a4aae0a58de0a4b0e0a49ce0a4a8e0a4a8 e0a495e0a58de0a4b7e0a4aee0a4a4e0a4be 1

नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण के कई साइड इफेक्‍ट्स सामने आ चुके हैं. भारत के डॉक्‍टरों द्वारा किए गए स्‍टडी में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. स्‍टडी रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस पुरुषों की प्रजनन क्षमता को प्रभावित करता है. COVID-19 सीमेन की गुणवत्‍ता को प्रभावित करता है. इससे पुरुषों की प्रजनन क्षमता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. स्‍टडी के दौरान कोरोना संक्रमित पुरुषों के सीमेन का एनालिसिस (स्‍पर्म काउंट टेस्‍ट) किया गया, जिसके चौंकाने वाले परिणाम सामने आए हैं. कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद सीमेन की क्‍वालिटी पहले जैसा नहीं रह जाता है. हालांकि, इस स्‍टडी में स्‍पर्म में कोरोना वायरस या उसके अंश पाए जाने के कोई सबूत नहीं मिले.

पटना, दिल्‍ली और मंगलगिरी (आंध्र प्रदेश) AIIMS के विशेषज्ञों की टीम ने कोरोना संक्रमित पुरुषों की प्रजनन क्षमता को लेकर स्‍टडी किया था. पटना AIIMS में अक्‍टूबर 2020 से अप्रैल 2021 के बीच भर्ती हुए 19 से 43 वर्ष आयुवर्ग के बीच वाले 30 पुरुष कोरोना संक्रमितों को इस स्‍टडी में शामिल किया गया था. इनका पहला स्‍पर्म काउंट टेस्‍ट संक्रमण के तुरंत बाद किया गया था. दूसरी बार ढाई महीने के बाद इनका सीमेन लेकर उसका विश्‍लेषण किया गया था. जांच में इन पुरुषों के सीमेन में SARS-CoV-2 नहीं पाया गया, लेकिन पहले टेस्‍ट में उनके सीमेन की गुणवत्‍ता काफी कमजोर पाई गई. दोबारा जब इनके सीमेन के सैंपल का टेस्‍ट किया गया तब भी वह पूर्व के स्‍तर तक नहीं पहुंच सका था. बता दें कि स्‍पर्म की गुणवत्‍ता को 3 मानकों के आधार पर आंका जाता है. पहला, स्‍पर्म की संख्‍या. दूसरा, स्‍पर्म का शेप और तीसरा स्‍पर्म का मूवमेंट.

READ More...  कोविद -19 खत्म होने के बाद संभावित प्रभाव और परिवर्तन

Sperm Count : भारतीय पुरुषों में किस वजह से घट रहा स्पर्म काउंट? एक्सपर्ट्स ने बताई वजह 

स्‍टडी रिपोर्ट
क्‍यूरियस जॉर्नल ऑफ मेडिकल में प्रकाशित स्‍टडी रिपोर्ट के अनुसार, पहले सैंपलिंग में 30 में से 12 (40 फीसद) पुरुषों का स्‍पर्म काउंट कम पाया गया. 10 सप्‍ताह के बाद जब दूसरी बार जांच की गई तब भी 3 पुरुषों के सीमेन की गुणवत्‍ता काफी कमजोर पाई गई. पहले टेस्‍ट में 30 में से 10 पुरुषों का सीमेन कमजोर पाया गया. चौंकाने वाली बात यह रही कि स्‍टडी में हिस्‍सा लेने वाले 30 पुरुषों में से 26 के सीमेन की थिकनेस, 29 में स्‍पर्म काउंट और 22 पुरुषों का स्‍पर्म मूवमेंट प्रभावित पाया गया. दूसरी जांच में स्थिति में सुधार पाया गया, लेकिन विशेषज्ञों ने बताया कि कोरोना संक्रमितों के सीमेन की गुणवत्‍ता 10 सप्‍ताह बाद भी पूर्व के स्‍तर तक नहीं पहुंच सका था.

पुरुषों की प्रजनन क्षमता पर असर
कोरोना संक्रण के बाद पुरुषों की प्रजनन क्षमता के बारे में पता लगाने के लिए दुनिया के कई देशों में स्‍टडी किए गए हैं. इसी क्रम में भारत में भी अध्‍ययन किया गया. बता दें कि स्‍पर्म काउंट के सामान्‍य न रहने से प्रजनन क्षमता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. कोरेाना संक्रमितों में यह कमजोर पाया गया. कोरोना संक्रमण ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया. इस खतरनाक वायरस से बड़ी संख्‍या में लोग संक्रमित हुए और लाखों लोगों की मौत भी हुई.

READ More...  खतरा: कोरोना की दूसरी लहर से देश में हाहाकार, इस साल एक दिन में सर्वाधिक 59,118 नए केस

Tags: COVID 19 Test, Health News, Sperm Quality

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)