e0a4aae0a587e0a49fe0a58de0a4b0e0a58be0a4b2e0a4bfe0a4afe0a4ae e0a495e0a58de0a4b7e0a587e0a4a4e0a58de0a4b0 e0a4aee0a587e0a482 e0a4b0
e0a4aae0a587e0a49fe0a58de0a4b0e0a58be0a4b2e0a4bfe0a4afe0a4ae e0a495e0a58de0a4b7e0a587e0a4a4e0a58de0a4b0 e0a4aee0a587e0a482 e0a4b0 1

हाइलाइट्स

वेदांता की ओर से 20 हजार करोड़ के निवेश का करार हो रखा है
फोकस एनर्जी की ओर से 1125 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है
ओएनजीसी की ओर से राजस्थान में 1050 करोड़ रुपये के निवेश किया जा रहा है

जयपुर. राजस्थान में पेट्रोलियम क्षेत्र (Petroleum Sector) में निवेश के नए अवसर बढ़ रहे हैं. राजस्थान में पेट्रोलियम के क्षेत्र में करीब 6200 करोड़ का नया निवेश (New Investment) किया जा चुका है. राजस्थान में चार निवेशकों की ओर से 22838 करोड़ के निवेश कार्य जारी है. माइंस एवं पेट्रोलियम डिपार्टमेंट इस क्षेत्र में निवेश बढ़ाने पर लगातार फोकस कर रहा है. माइंस एवं पेट्रोलियम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल के अनुसार विभागीय प्रयासों से पिछले साल इंवेस्ट राजस्थान के तहत पेट्रोलियम क्षेत्र में केयर्न वेदांता की ओर से 20 हजार करोड़, ऑयल इंडिया की ओर से 663 करोड़. ओएनजीसी की ओर से 1050 करोड़ और फोकस एनर्जी द्वारा 1125 करोड़ रुपये के नए निवेश के प्रस्तावों पर करार किया गया था.

उन्होंने बताया कि चारों ही निवेशक कंपनियों के निवेश को धरातल पर लाना शुरू कर दिया गया है. अब तक 6200 करोड़ रुपये के निवेश कार्य किये जा चुके हैं. इनका चरणबद्ध तरीके से निवेश कार्य प्रगति पर है. पेट्रोलियम क्षेत्र में सबसे अधिक निवेश केयर्न वेदांता की ओर से किया जा रहा है. 20 हजार करोड़ के निवेश करार के तहत अब तक बाड़मेर और जालोर जिले में पीएमएल और पीईएल ब्लॉक में एक्सप्लोरेशन और अन्य विकास कार्य किये जा रहे हैं. इनमें से 5671 करोड़ रुपये के कार्य किये जा चुके हैं.

READ More...  पराली प्रबंधन में यूपी-हरियाणा की सफलता, पंजाब और बाकी राज्य ले सकते हैं सीख

निवेशकों के निवेश कार्य को धरातल पर उतारा जा रहा है
बकौल अग्रवाल इसी तरह से फोकस एनर्जी की ओर से 1125 करोड़ रुपये के निवेश कार्यों के तहत 113 करोड़ का निवेश जैसलमेर ब्लॉक में किया जा रहा है. ओएनजीसी की ओर से राजस्थान में 1050 करोड़ रुपये के निवेश कार्य किया जा रहा है. इनमें से 212 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश बीकानेर और जैसलमेर की पीएमएल व पीईएल में एक्सप्लोरेशन और उत्पादन कार्य किया गया है. इसी तरह से ऑयल इंडिया की ओर से 663 करोड़ के निवेश लक्ष्य के तहत जैसलमेर में 144 करोड़ से अधिक के कार्य किए जा चुके हैं.

आपके शहर से (जयपुर)

राजस्थान
जयपुर

राजस्थान
जयपुर

हजारों लोगों के लिए रोजगार की राह खुलने लगी हैं
डॉ. अग्रवाल ने बताया कि इंवेस्ट राजस्थान में पेट्रोलियम क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने के साथ ही विभाग की ओर से अनवरत समन्वय बनाते हुए प्रदेश में 6540 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश कार्य धरातल पर ला दिये हैं. सभी चारों निवेशकों की ओर से निवेश लक्ष्यों को प्राप्त करने के तेजी से प्रयास किए जा रहे हैं. इससे राजस्थान में पेट्रोलियम क्षेत्र में एक्सप्लोरेशन और खनन कार्य को गति मिली है. नए निवेश से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से हजारों लोगों के लिए रोजगार की राह खुलने लगी हैं. उन्होंने बताया कि राजस्थान आज देश में सर्वाधिक खनिज कच्चा तेल उत्पादक प्रदेश बन गया है. देश का 20 प्रतिशत से अधिक कच्चा तेल राजस्थान में उत्पादित हो रहा है.

READ More...  गुजरात सरकार का बड़ा ऐलान, सेवा के दौरान सशस्त्र बलों की मौत पर 1 करोड़ रुपये मुआवजा

Tags: Ashok Gehlot Government, Employment, Jaipur news, Rajasthan news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)