e0a4aae0a58de0a4b0e0a495e0a4bee0a4b6 e0a4aae0a4b0e0a58de0a4b5 e0a4aae0a4b0 e0a4aae0a482e0a49ce0a4bee0a4ac e0a495e0a587 e0a4b8e0a580

चंडीगढ़. आज पूरे पंजाब राज्‍य में गुरु गोबिन्द सिंह जी का प्रकाश पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है. इस मौके पर पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान ने न केवल देश और दुनिया में बसे सभी पंजाबियों को इस पर्व की बधाई दी बल्कि इस मौके पर बहुत ही भावुक कर देने वाला संदेश भी दिया.

मान ने कहा कि सिखों के दसवें गुरु और खालसा पंथ के संस्थापक गुरु गोबिन्द सिंह जी अपने जीवन काल के दौरान प्रेम, एकजुटता और सार्वभौमिक भाईचारे का संदेश दिया है. गुरु साहिब ने 1699 में खालसा पंथ की सृजना करके न्याय, समानता, सामाजिक कल्याण और मानव अधिकारों की रक्षा के लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए खुद को कुर्बान करने के लिए हमेशा तैयार रहने वाली कौम तैयार की थी.

मान ने सभी पंजाबियों और सिखों से श्री आनन्दपुर साहिब में खालसा पंथ की सृजना करने वाले महान संत सिपाही की शिक्षाओं और समृद्ध विरासत को आगे बढ़ाने और उनके दिखाए मानव सेवा के रास्‍ते पर चलने के लिए प्रेरित किया.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

राज्य चुनें
दिल्ली-एनसीआर

मुख्यमंत्री ने लोगों को श्री गुरु गोबिन्द सिंह द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलते हुए आदर्श और समानता वाले समाज की सृजना करने के लिए एकजुट होकर संघर्ष करने का आह्वान किया. लोगों को धर्म-निरपेक्षता की सदियों पुरानी परम्पराओं को बरकरार रखने के साथ-साथ मानव अधिकारों की रक्षा और धार्मिक स्वतंत्रता को सुनिश्चित बनाने के लिए गुरू जी के बेमिसाल योगदान को याद करवाया, जिसके लिए उन्होंने अपने परिवार समेत सब कुछ कुर्बान कर दिया.

मान ने सभी लोगों को जात-पात, रंग, नस्‍ल के भेदभाव से ऊपर उठकर यह पवित्र दिवस मनाने का भी आह्वान किया.

Tags: CM Bhagwant Mann, Punjab news

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  असम-मेघालय सीमा पर लकड़ी की तस्करी को लेकर हिंसा, 4 लोगों की मौत; कुछ इलाकों में इंटरनेट बंद