e0a4abe0a589e0a4b0e0a587e0a4a8 e0a49fe0a588e0a495e0a58de0a4b8 e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a1e0a4bfe0a49f e0a495e0a58de0a4b2e0a587
e0a4abe0a589e0a4b0e0a587e0a4a8 e0a49fe0a588e0a495e0a58de0a4b8 e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a1e0a4bfe0a49f e0a495e0a58de0a4b2e0a587 1

हाइलाइट्स

फॉरेन टैक्स क्रेडिट पर टैक्सपेयर्स को राहत.
रिटर्न की अंतिम तारीख बीतने के बाद भी कर सकेंगे FTC क्लेम.
फॉरेन टैक्स क्रेडिट के लिए फॉर्म 67 भरना जरूरी.

नई दिल्ली. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी सीबीडीटी (CBDT) ने फॉरेन टैक्स क्रेडिट (FTC) का दावा करने वाले टैक्सपेयर्स को राहत देने के लिए इनकम टैक्स नियमों में संशोधन किया है. संशोधन से पूर्व आयकर नियम के तहत इनकम टैक्स रिटर्न भरने की अंतिम तारीख तक एफटीसी क्लेम दाखिल करना जरूरी था. बदलाव के बाद यह सुविधा पूरे चालू वित्तीय वर्ष के दौरान दायर क्लेम के लिए उपलब्ध रहेगी. अब फॉर्म नंबर 67 को इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख के बाद भी भरा जा सकेगा.

फॉरेन टैक्स क्रेडिट के लिए रिटर्न के साथ फॉर्म 67 भरना जरूरी

मौजूदा नियमों के मुताबिक, फॉरेन टैक्स क्रेडिट के लिए रिटर्न के साथ फॉर्म 67 भरना होता है, फिलहाल टैक्स क्रेडिट के लिए फॉर्म 67 को रिटर्न भरने की अंतिम तारीख या उसे पहले भरना जरूरी होता है. सीबीडीटी ने आज इस पर छूट दी है. अब टैक्सपेयर्स टैक्स क्रेडिट के फॉर्म 67 को एसेसमेंट ईयर के अंत तक भर सकते हैं.

1 अप्रैल, 2022 से प्रभावी है संशोधन

संशोधन 1 अप्रैल, 2022 से प्रभावी है, तो यह वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान फाइल किए गए फॉरेन टैक्स क्रेडिट के सभी क्लेम पर लागू होगा.

सीबीडीटी ने प्रवासी कॉरपोरेट इकाइयों को बाहर धन भेजने लिए टीसीएस से छूट दी

इसके अलावा इनकम टैक्स विभाग ने प्रवासी कॉरपोरेट इकाइयों और कंपनियों को विदेशों में धन भेजने और यात्रा पैकेज पर 5 फीसजी टीसीएस से छूट दी है. यह छूट उन्हें मिली है, जिनके देश में स्थायी प्रतिष्ठान या कामकाज के लिये स्थायी जगह नहीं है. सीबीडीटी ने इनकम टैक्स नियमों में बदलाव को अधिसूचित किया है और छूट का दायरा बढ़ाया है. इनकम टैक्स कानून की धारा 206 (1जी) के तहत पहले यह छूट केवल प्रवासी व्यक्तियों को ही थी.

Tags: CBDT, Income tax

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  SBI रिपोर्ट में दावा, साल 2029 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत