e0a4ace0a4a8 e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588 e0a487e0a4b2e0a587e0a495e0a58de0a49fe0a58de0a4b0e0a4bfe0a495 e0a4b9e0a4b5e0a4bee0a488
e0a4ace0a4a8 e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588 e0a487e0a4b2e0a587e0a495e0a58de0a49fe0a58de0a4b0e0a4bfe0a495 e0a4b9e0a4b5e0a4bee0a488 1

हाइलाइट्स

दुनिया में कई कंपनियां इलेक्ट्रिक एयरक्राफ्ट बनाने की कोशिश कर रही है.
आर्चर एविएशन और स्‍टेलेंटिस 2024 में ई-एयरक्रॉफ्ट लॉन्‍च करना चाहती है.
ये पूरी तरह से इलेक्ट्रिक हवाई जहाज होगा.

नई दिल्‍ली. मल्टी ब्रांड ऑटोमोटिव कंपनी स्टेलेंटिस ने यूएस स्टार्टअप आर्चर एविएशन (Archer Aviation) के साथ इलेक्ट्रिक हवाई जहाज (Electric Aircraft) बनाने के लिए हाथ मिलाया है. दोनों कंपनियां साल 2024 से इलेक्ट्रिक हवाई जहाज बनाना शुरू करेगी. दोनों कंपनियों द्वारा बनाए जाने वाला एयरोप्‍लेन 445 किलोग्राम वजन लेकर उड़ने में सक्षम होगा. यह पायलट सहित 5 व्‍यक्तियों को लेकर उड़ान भर सकेगा और एक बार चार्ज करने पर 160 किलोमीटर की दूरी तय कर लेगा.

दोनों कंपनियों में हुए समझौते के अनुसार, स्‍टेलेंटिस अपनी विनिर्माण विशेषज्ञता आर्चर को मिडनाइट इलेक्ट्रिकली पावर्ड वर्टिकल टेकऑफ़ (eVTOL) एयरक्राफ्ट का उत्पादन करने के लिए देगी. इसकी मदद से आर्चर इस एयरक्राफ्ट के व्‍यवसायिक निर्माण में तेजी लाएगी. यही नहीं स्‍टेलेंटिस अनुभवी कर्मचारी भी उपलब्‍ध कराएगी. इससे आर्चर का काफी पैसा बचेगा. साथ ही आर्चर को स्‍टेलेंटिस 150 मिलियन डॉलर रुपये भी देगी.

ये भी पढ़ें- आम साइकिल भी बन जाएगी इलेक्ट्रिक, 25 kmph स्पीड पर दौड़ाएं, बस खर्च करना होगा थोड़ा-सा पैसा

अगले साल शुरू होगा निर्माण
स्टेलेंटिस जॉर्जिया के कोविंग्टन में मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी बनाने के लिए आर्चर के साथ काम करेगी. दोनों कंपनियों की योजना 2024 में मिडनाइट एयरक्राफ्ट का उत्पादन शुरू करने की है. दोनों कंपनियों द्वारा बनाए जाने वाले इस इलेक्ट्रिक हवाई जहाज की रेंज वैसे तो 160 किलोमीटर है, लेकिन इसे 32 किलोमीटर तक की छोटी दूरी की उड़ानों के लिए ऑप्टिमाइज किया जाएगा. स्टॉपओवर के दौरान, बैटरी को रिचार्ज करने के लिए केवल लगभग 10 मिनट का समय पर्याप्त होगा.

READ More...  PPF vs NPS : रिटायरमेंट के लिए दोनों में से कौन-सी स्कीम है सबसे बेहतर, जानिए

दोनों ही कंपनियों का लक्ष्‍य अर्बन एयर मोबिलिटी में कुछ नया करने का है. इसीलिए दोनों ही कंपनियां अपनी क्षमताओं का पूरा दोहन कर नए एयर मोबिलिटी व्हिकल को जल्‍द से जल्‍द बाजार में लाना चाहती हैं. आर्चर जहां eVTOL के इलेक्ट्रिक प्रोपुलेशन जैसी तकनीकी चीजों पर काम करेगी,वहीं स्‍टेलेंटिस अपनी निर्माण तकनीकों और एक्‍सपर्टाइज का उपयोग इलेक्ट्रिक हवाई जहाज का निर्माण बड़े पैमाने पर करने के लिए करेगी. आर्चर और स्‍टेलेंटिस के बीच 2020 से ही रणनीतिक सहयोग जारी है. स्टेलेंटिस ने 2021 में भी आर्चर में निवेश किया था.

बीटा टेक्‍नोलॉजीज भी बना रही है इलेक्ट्रिक एयरक्राफ्ट
एक अन्‍य कंपनी बीटा टेक्नोलॉजीज भी इलेक्ट्रिक हवाई जहाज बनाने में जुटी है. कंपनी ने ALIA नाम से एक प्लेन बनाया है. यह देखने में ड्रोन जैसा दिखता है. यह विमान 1,400 पाउंड कार्गो या 6 लोगों को एक साथ ले जाने की क्षमता रखता है. यह प्लेन ALIA सीरियस एक्सएम के संस्थापक मार्टीन रोथब्लैट और हार्वर्ड-शिक्षित इंजीनियर काइल क्लार्क के दिमाग की उपज है.

Tags: Aeroplane, Auto News, Aviation News, Electric Vehicles

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)