e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a497e0a58de0a4b0e0a588e0a482e0a4a1e0a4aee0a4bee0a4b8e0a58de0a49fe0a4b0 e0a4a1e0a580 e0a497
e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a497e0a58de0a4b0e0a588e0a482e0a4a1e0a4aee0a4bee0a4b8e0a58de0a49fe0a4b0 e0a4a1e0a580 e0a497 1

पुंटा प्राइमा (स्पेन). भारतीय ग्रैंडमास्टर (जीएम) डी गुकेश ने दमदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को पहले चेसेबल सनवे फोरेमेंटेरा ओपन 2022 शतरंज टूर्नामेंट में चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया. गुकेश की यह लगातार तीसरी खिताबी जीत है. उन्होंने हाल के हफ्तों में ला रोडा और मेनोर्का ओपन जीतने के बाद स्पेन में खिताब की हैट्रिक पूरी की.

चेन्नई के गुकेश ने अंतिम दौर में आर्मेनिया के जीएम हाइक एम मार्टिरोसियन के साथ ड्रॉ खेला और कुल आठ अंकों के साथ खिताब अपने नाम कियाा. उन्होंने 9वें दौर में दूसरी वरीयता प्राप्त के शशिकिरण को हराया था. 9 चरण तक अजेय  रहे गुकेश ने यहां अपने प्रदर्शन की बदौलत 16 ईएलओ अंक हासिल किए.

इसे भी देखें, ग्रैंडमास्टर गुकेश टॉप-100 में शामिल सबसे युवा भारतीय शतरंज खिलाड़ी, विश्वनाथन आनंद ने दी बधाई

15 साल के गुकेश अब वर्ल्ड रैंकिंग में 64वें नंबर पर पहुंच गए हैं. गुकेश ने शशिकिरण के अलावा शीर्ष वरीयता प्राप्त जैमे सैंटोस लतासा, तीसरी वरीयता प्राप्त शांत सरगिसन (आर्मेनिया) को ड्रॉ पर रोका. शशिकिरण (ईएलओ 2650) को 5.5 अंकों के साथ 9वें स्थान पर संतोष करना पड़ा.

गुकेश 3 साल पहले 2019 में ही ग्रैंडमास्टर बन गए थे. वह 7 साल की उम्र से शतरंज सीख और खेल रहे हैं. उन्होंने साल 2018 में अंडर-12 वर्ग में वर्ल्ड यूथ चेस चैंपियनशिप जीती थी.

Tags: Chess, Chess Youngest Grandmaster, Sports news

READ More...  विराट कोहली ही नहीं, बड़े भाई विकास भी फिटनेस के मामले में हैं अव्वल

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)