e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a49ae0a4bee0a4af e0a495e0a580 e0a4b5e0a4bfe0a4a6e0a587e0a4b6e0a58be0a482 e0a4aee0a587e0a482
e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a49ae0a4bee0a4af e0a495e0a580 e0a4b5e0a4bfe0a4a6e0a587e0a4b6e0a58be0a482 e0a4aee0a587e0a482 1

नई दिल्ली. चाय के लिए प्रसिद्ध असम की चाय की डिमांड देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी काफी है. जिसके चलते इस साल के पहले 8 महीनों में भारत से चाय के निर्यात में जबर्दस्त उछाल आया है. भारत से चाय का निर्यात कैलेंडर वर्ष 2022 के पहले आठ महीनों (जनवरी-अगस्त) में 14.8 प्रतिशत बढ़कर 14 करोड़ 2.8 लाख किलोग्राम हो गया. चाय बोर्ड के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है.

पिछले साल की समान अवधि में चाय का निर्यात 12 करोड़ 21.8 लाख किलोग्राम रहा था. आंकड़ों के अनुसार, रूस, यूक्रेन और कजाकिस्तान सहित सीआईएस देश 2022 के पहले आठ महीनों में तीन करोड़ 5.6 लाख किलोग्राम के साथ भारतीय चाय के सबसे बड़े आयातक बने रहे.

ये भी पढ़ें: दुनिया के इस देश में फूटा ‘महंगाई’ बम! 88% के रिकॉर्ड स्तर पर मुद्रास्फीति की दर, आटे-दाल के भाव ने रुलाया

पिछले साल 2 करोड़ 91.3 लाख किलोग्राम चाय का निर्यात हुआ
एक साल पहले की समान अवधि में इन देशों को दो करोड़ 91.3 लाख किलोग्राम चाय का निर्यात हुआ था. उद्योग सूत्रों ने कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के कारण आसमान छूती निर्यात एवं कंटेनर लागत के कारण चाय के निर्यात में पर्याप्त वृद्धि नहीं हुई.

इन देशों में होता है सबसे ज्यादा निर्यात
सीआईएस देशों के बाद, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) दो करोड़ 38.4 लाख किलोग्राम चाय आयात करने वाला दूसरा सबसे बड़ा आयातक देश था. वर्ष 2021 की समान अवधि में वहां चाय का निर्यात 92.7 लाख किग्रा रहा था. अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों के कारण 2022 के पहले आठ महीनों में पश्चिम एशियाई देश को चाय के निर्यात में वृद्धि नहीं हुई.

READ More...  Investment Tips : एफडी कराने के सिर्फ फायदे ही नहीं-नुकसान भी हैं, पूरी जानकारी के बाद ही इसमें लगाएं पैसे

ये भी पढ़ें: बाल वेश्यावृत्ति जितनी बुरी है क्रिप्टोकरेंसी, मुंगेर ने इसे बताया धोखाधड़ी व भ्रम का जाल

चाय के सबसे बड़े उत्पादक और इसका सबसे अधिक उपभोग करने वाले देश चीन में निर्यात इस साल जनवरी से अगस्त तक पिछले साल की समान अवधि के 40.5 लाख किलोग्राम से घटकर 35.5 लाख किलोग्राम रह गया.

Tags: Business news in hindi, Export, Import-Export

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)