Mette Modi
भारत की अपनी पहली राजकीय यात्रा पर पीएम मोदी ने डेनमार्क के समकक्ष फ्रेडरिकसेन से मुलाकात की (Photo| Twitter/ @MEAIndia)

भारत की अपनी पहली राजकीय यात्रा पर पीएम मोदी ने डेनमार्क के समकक्ष फ्रेडरिकसेन से मुलाकात की

द्वारा इनपुट:-एएनआई. अपडेट किया गया: 09 अक्टूबर. 2021 11: 46 IST

नई दिल्ली [भारत] . 9 अक्टूबर (एएनआई) : प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नई दिल्ली में डेनमार्क के प्रधान मंत्री मेटे फ्रेडरिकसेन से मुलाकात की. जो भारत की अपनी पहली राजकीय यात्रा पर हैं.

पीएम मोदी ने दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में मेटे फ्रेडरिकसेन की अगवानी की. जहाँ उनका औपचारिक स्वागत किया गया. उन्होंने राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि भी दी.

डेनमार्क की प्रधानमंत्री ने कहा कि वह अपनी नई दिल्ली यात्रा को दोनों देशों के बीच सम्बंधों के लिए एक मील के पत्थर के रूप में देखती हैं. उन्होंने कहा. “हम भारत को एक करीबी भागीदार मानते हैं. मैं इस यात्रा को डेनमार्क-भारत द्विपक्षीय सम्बंधों के लिए एक मील के पत्थर के रूप में देखती हूँ.”

राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत के बाद बोलते हुए. फ्रेडरिकसन ने कहा कि वह एक महत्त्वाकांक्षी भारत सरकार को भारत और बाकी दुनिया में हरित संक्रमण के मुद्दे की जिम्मेदारी लेते हुए देखती हैं.

फ्रेडरिकसन ने आज विदेश मंत्री (ईएएम) एस जयशंकर से भी मुलाकात की.

डेनिश पीएम शनिवार की तड़के नई दिल्ली पहुँचे. विदेश राज्य मंत्री (MoS) मीनाक्षी लेखी ने दिल्ली हवाई अड्डे पर उनका स्वागत किया.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि डेनिश पीएम की यात्रा भारत-डेनमार्क ग्रीन स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप की समीक्षा करने और उसे आगे बढ़ाने का एक अवसर है.

फ्रेडरिकसन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. वह थिंक टैंक. छात्रों और नागरिक समाज के सदस्यों के साथ भी बातचीत करेंगी.

READ More...  गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने तैयार किए क्रॉस वेंटिलेशन वाले खास टेंट

भारत ने मेटे फ्रेडरिकसेन की यात्रा को बहुत महत्त्वपूर्ण बताया क्योंकि वह भारत की यात्रा करने वाली पहली राष्ट्राध्यक्ष हैं क्योंकि पिछले मार्च से COVID-19 प्रतिबंध लागू हैं. विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने भी इस साल की शुरुआत में डेनमार्क का दौरा किया था.

भारत और डेनमार्क के बीच मजबूत व्यापार और निवेश सम्बंध हैं. भारत में 200 से अधिक डेनिश कंपनियाँ मौजूद हैं और 60 से अधिक भारतीय कंपनियों की डेनमार्क में उपस्थिति है. (एएनआई)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.