e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a4aee0a587e0a482 e0a4a4e0a587e0a49ce0a580 e0a4b8e0a587 e0a4abe0a588e0a4b2 e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588
e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a4aee0a587e0a482 e0a4a4e0a587e0a49ce0a580 e0a4b8e0a587 e0a4abe0a588e0a4b2 e0a4b0e0a4b9e0a4be e0a4b9e0a588 1

नई दिल्ली. इंडियन सार्स-सीओवी-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (इन्साकॉग) ने अपने बुलेटिन में कहा है कि कोरोनो वायरस का ओमीक्रॉन स्वरूप और इससे बने अन्य स्वरूप भारत में प्रमुखता से बने हुए हैं, जिसमें ‘एक्सबीबी’ प्रमुख है. इन्साकॉग का बुलेटिन सोमवार को जारी किया गया. बुलेटिन के मुताबिक बीए.2.75 और बीए.2.10 स्वरूप भी फैल रहे थे लेकिन कुछ हद तक.

बुलेटिन के अनुसार, ‘विशेष रूप से उत्तर-पूर्व भारत में बीए.2.75 वायरस का प्रचलित स्वरूप रहा है. हालांकि, इस अवधि में गंभीर बीमारी या अस्पताल में भर्ती होने के मामलों में कोई वृद्धि नहीं देखी गई है.’ इन्साकॉग ने कहा कि ओमीक्रॉन और इसके स्वरूप भारत में प्रमुखता से बने हुए हैं. एक्सबीबी पूरे भारत में सबसे प्रचलित स्वरूप (63.2 प्रतिशत) है. पांच दिसंबर के बुलेटिन में, जो सोमवार को भी जारी किया गया, इन्साकॉग ने कहा कि कुल संक्रमण दर प्रति दिन 500 से नीचे है.

इन्साकॉग ने 28 नवंबर के अपने बुलेटिन में कहा था कि ओमीक्रॉन और इसके स्वरूप भारत में प्रमुखता से बने हुए हैं. कुछ देशों में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर भारत ने निगरानी बढ़ा दी है. भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 173 नए मामले सामने आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,46,78,822 हो गई, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 2,670 रह गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार को सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, उत्तराखंड में संक्रमण से एक मरीज की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 5,30,707 हो गई है. संक्रमण से मौत के आंकड़ों का पुन:मिलान करते हुए केरल ने वैश्विक महामारी से जान गंवाने वाले मरीजों की सूची में एक नाम और जोड़ा है. अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक, कोरोना वायरस संक्रमण के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 2,670 रह गई है, जो कुल मामलों का 0.01 प्रतिशत है.

READ More...  देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद तक कोविंद का सफर लोकतंत्र की प्रेरक उपलब्धि : ओम बिरला

Tags: Coronavirus, Omicron

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)