e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a4a8e0a4be e0a495e0a4ab e0a4b8e0a4bfe0a4b0e0a4aa e0a4aae0a580e0a4a8e0a587 e0a4b8
e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4 e0a4aee0a587e0a482 e0a4ace0a4a8e0a4be e0a495e0a4ab e0a4b8e0a4bfe0a4b0e0a4aa e0a4aae0a580e0a4a8e0a587 e0a4b8 1

हाइलाइट्स

भारत में निर्मित कफ सिरप पीने से उज्बेकिस्तान में 18 बच्चों की संदिग्ध मौत
मैरियन बायोटेक द्वारा निर्मित सिरप ‘डॉक -1 मैक्स’ को मौत का जिम्मेदार बताया

नई दिल्ली. भारत में निर्मित कफ सिरप पीने से विदेश में बच्चों की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है. इस बार उज्बेकिस्तान में 18 बच्चों की मौत हो गई. सूचना मिलते ही उत्तर प्रदेश स्थित फार्मास्युटिकल फर्म मैरियन बायोटेक को प्रोपलीन ग्लाइकोल युक्त दवाओं के उत्पादन को रोकने के लिए कहा गया है. आपको बता दें कि न्यूज़ 18 ने बुधवार को उज्बेकी न्यूज वेबसाइट AKI.com पर उन खबरों को हाईलाइट किया था, जिसमें दावा किया गया था कि मैरियन बायोटेक द्वारा निर्मित सिरप, ‘डॉक -1 मैक्स’, लगभग 18 बच्चों की मौत के लिए जिम्मेदार था. रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चों को सांस की गंभीर बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

READ: New Year Party: नए साल पर डायबिटीज पेशेंट ऐसे करें पार्टी, स्वाद और स्वास्थ्य दोनों बने रहेंगे, याद रखें ये टिप्स

स्वास्थ्य मंत्रालय के दखल के बाद केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) और उत्तर प्रदेश औषधि नियंत्रण एवं लाइसेंसिंग प्राधिकरण की संयुक्त टीम ने 27 दिसंबर को मैरियन बायोटेक के निर्माण स्थल का निरीक्षण किया. संयंत्र से एकत्र किए गए नमूनों को परीक्षण के लिए भेजा गया है. ऐसा ही एक मामला तब सामने आया था जब गाम्बिया में कथित रूप से मेड-इन-इंडिया सिरप के कारण इसी तरह बच्चों की मौत की सूचना मिली थी.

घातक केमिकल मिला
उज़्बेकी मीडिया रिपोर्टों में उज़्बेकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्राथमिक प्रयोगशाला अध्ययनों का हवाला दिया गया है, जिसमें डोक-1 मैक्स सिरप में एथिलीन ग्लाइकॉल, घातक रसायन जिसे गाम्बिया में मौतों के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था, की उपस्थिति दिखाई गई थी. वहीं News18 द्वारा भेजे गए एक ईमेल पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि वह उज्बेकिस्तान में स्वास्थ्य अधिकारियों के संपर्क में है और आगे की जांच में सहायता के लिए तैयार है. ज्ञात हो कि इससे पहले अफ्रीका के गाम्बिया में 66 छोटे बच्चों की मौत का आरोप भी भारत में निर्मित एक सिरप पर लगा था.

READ More...  यूक्रेन के सीविएरोदोनेत्सक और डोनेट्स्क शहर पर रूस ने किया कब्जा, पढ़ें जंग के 10 अपडेट

Tags: Children death, Pharmaceutical company

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)