Snowfall affects life in Kashmir Valley- India TV Hindi
Image Source : PTI कश्मीर में तीन दिनों से हो रही भारी बर्फबारी से घाटी सफेद तो हो गया है लेकिन कुदरत के कहर से त्राहि त्राहि मची हुई है।

श्रीनगर: कश्मीर में तीन दिनों से हो रही भारी बर्फबारी से घाटी सफेद तो हो गया है लेकिन कुदरत के कहर से त्राहि त्राहि मची हुई है। भारी बर्फबारी होने के चलते यहां पर यातायात सेवाएं बड़ी ही बुरी तरीके से प्रभावित हुई हैं, जिससे देश के बाकी हिस्से से यहां का संपर्क टूट गया है। मौजूदा गंभीर हालातों को देखते हुए प्रशासन द्वारा यहां लोगों को जरूरत की सारी चीजों को जुटाकर रखने का आदेश दिया गया है, ताकि आगे चलकर उन्हें किसी तरह की दिक्कतों का सामना न करना पड़े। यहां विभिन्न जगहों पर हिमपात और भूस्खलन होने के चलते श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग लगातार तीसरे दिन भी बंद रहा। 

ये भी पढ़ें: जेल से छूट रहा है 200 लोगों की जान लेने वाला इस देश का सबसे कुख्यात आतंकी Abu Bakar Bashir

लगभग 300 किलोमीटर लंबाई वाले इस राजमार्ग के माध्यम से ही मुख्य तौर पर घाटी में चीजों की आपूर्ति कराई जाती है। हर बार राजमार्ग पर सेवाएं बाधित होने पर होर्डर्स और मुनाफाखोर कालाबाजारी का सहारा लेने लगते हैं। प्रशासन ने मंगलवार को पेट्रोलियम उत्पादों और रसोई गैस की राशनिंग की घोषणा की है।

21 दिनों बाद ही मिलेगा रसोई गैस का एक सिलिंडर

कश्मीर के संभागीय आयुक्त पी.के.पोल द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है कि प्रतिदिन के हिसाब से दोपहिया वाहनों को 3 लीटर, तीन पहिया वाहनों को 5 लीटर, चार पहिया निजी वाहनों को 10 लीटर, चार पहिया वाणिज्यिक वाहनों को 20 लीटर और ट्रक/बस जैसे भारी वाहनों को 20 लीटर ईंधन मिलेंगे।

READ More...  राष्ट्रपति कोविंद ने अभिभाषण में 26 जनवरी की घटना का किया जिक्र, कहा-'गणतंत्र दिवस पर तिरंगे का अपमान बहुत दुर्भाग्यपूर्ण'

ये भी पढ़ें: Bird Flu को लेकर केरल में राजकीय आपदा घोषित, मंदसौर-बंगलुरु में चिकन-अंडे की दुकानें बंद करने का आदेश

यह भी आदेश दिया गया है कि उपभोक्ताओं को 21 दिनों के बाद ही रसोई गैस का एक सिलिंडर उपलब्ध कराया जाएगा। भारी बर्फबारी के चलते यातायात सेवा के अलावा यहां बिजली की आपूर्ति भी बाधित हुई है।

Snowfall affects life in Kashmir Valley

Image Source : PTI

कश्मीर में तीन दिनों से हो रही भारी बर्फबारी से घाटी सफेद तो हो गया है लेकिन कुदरत के कहर से त्राहि त्राहि मची हुई है।

राजमार्ग पर कई स्थानों पर फंसे हैं करीब 4500 वाहन
राजमार्ग पर कई स्थानों पर करीब 4500 वाहन फंसे हैं। यातायात नियंत्रण विभाग के एक अधिकारी ने कहा, “जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग विभिन्न स्थानों, खासकर जवाहर सुरंग के आसपास बर्फ के इकट्ठा होने के कारण बंद है।” उन्होंने बताया कि बर्फ हटाने का काम जारी है और 260 किलोमीटर लंबे मार्ग पर फंसे वाहनों को निकालने की पूरी कोशिश की जा रही है।

ये भी पढ़ें: कोरोना से बचाने वाली दवा बिगाड़ सकती है आपकी ‘सेक्स लाइफ’, हो सकती है यह गंभीर बीमारी, WHO की चेतावनी

अगले 24 घंटे में मध्यम से भारी बर्फबारी का पूर्वानुमान
मौसम विज्ञान विभाग कार्यालय ने बताया कि अगले 24 घंटे में कुछ स्थानों खासकर दक्षिण कश्मीर, गुलमर्ग, बनिहाल-रामबन, पुंछ, राजौरी, किश्तवाड़ और ज़ंस्कार, द्रास के अलावा केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख में ऊंचाई वाले इलाकों में मध्यम से भारी बर्फबारी का पूर्वानुमान है।

बता दें है कि कश्मीर में 40 दिन का ‘चिल्ला कलां’ का दौर चल रहा है। इस दौरान क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ती है और सर्दी का आलम यह रहता है कि जल आपूर्ति वाली लाइनों तक में पानी जम जाता है। यह 21 दिसम्बर से शुरू हुआ है और 31 जनवरी को समाप्त होगा।

READ More...  रेलवे ने आज किया कई ट्रेनें चलाने का ऐलान, देखें ट्रेनों की लिस्ट और बुकिंग का तरीका

Original Source(india TV, All rights reserve)