e0a4aee0a4a3e0a4bfe0a4aae0a581e0a4b0 e0a495e0a580 e0a4afe0a587 e0a495e0a482e0a4aae0a4a8e0a580 e0a4b0e0a4bee0a4b7e0a58de0a49fe0a58d
e0a4aee0a4a3e0a4bfe0a4aae0a581e0a4b0 e0a495e0a580 e0a4afe0a587 e0a495e0a482e0a4aae0a4a8e0a580 e0a4b0e0a4bee0a4b7e0a58de0a49fe0a58d 1

नई दिल्ली: एक कंपनी के बैंक में जमा 2.31 करोड़ रुपये धन शोधन रोकथाम कानून के तहत जब्त कर लिए गए हैं. इस राशि पर ऐसे कुछ लोगों का ‘नियंत्रण’ था जिनके खिलाफ राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने राष्ट्रविरोधी गतिविधियों के आरोप में मामला दर्ज किया है. प्रवर्तन निदेशालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.

यह राशि सलाई एग्री कंसोर्टियम प्राइवेट लिमिटेड की है जो सलाई समूह की एक कंपनी है. धनशोधन का मामला नवंबर 2019 की एक प्राथमिकी के आधार पर दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें- क्यों घंटों दौड़ रहे हैं मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेता! कहीं वर्जिश तो कहीं मार्च, वायरल हो गए Video

एनआईए ने नवंबर 2019 में कुछ लोगों के खिलाफ ‘‘भारत से मणिपुर राज्य की स्वतंत्रता की घोषणा कर विभिन्न समूहों के बीच राज्य के खिलाफ युद्ध छेड़ने, देशद्रोह, कटुता को बढ़ावा देने वाली’’ पूर्वाग्रहपूर्ण गतिविधियों के लिए मामला दर्ज किया था. ईडी ने एक बयान में यह जानकारी दी.

Tags: ED, ED Red, Manipur

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)

READ More...  गुजरात चुनाव: आप ने दोहराया वादा, कहा- पुरानी पेंशन योजना बहाल करेंगे