e0a4aee0a4b9e0a4bee0a4afe0a581e0a4a6e0a58de0a4a7 e0a495e0a4be e0a496e0a4a4e0a4b0e0a4be e0a49fe0a4b2e0a4be e0a4aae0a58be0a4b2e0a588
e0a4aee0a4b9e0a4bee0a4afe0a581e0a4a6e0a58de0a4a7 e0a495e0a4be e0a496e0a4a4e0a4b0e0a4be e0a49fe0a4b2e0a4be e0a4aae0a58be0a4b2e0a588 1

मास्को. पोलैंड में यूक्रेन की सीमा से सटे गांव प्रजेवोडो में हुए बड़े धमाके में दो लोगों की मौत के मामले में नया मोड़ आता दिख रहा है. शुरुआत में खबर थी कि रूस की ओर से यूक्रेन के कई अहम ठिकानों पर दागी गई मिसाइलों में कुछ पोलैंड में जा गिरीं, जिससे यहां भीषण धमाका हुआ. हालांकि अब समाचार एजेंसी रायटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, शुरुआती जांच पड़ताल में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि पोलैंड में गिरी ये मिसाइलें यूक्रेनी सेना ने दागी थी.

एपी समाचार एजेंसी ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से बताया है कि शुरुआती निष्कर्षों से पता चलता है कि यूक्रेनी सेना ने रूसी मिसाइलों को मार गिराने के लिए मिसाइल दागी थी, जो गलती से पोलैंड पर जा गिरी.

जो बाइडेन ने जी7 नेताओं के साथ की बैठक
उधर डीपीए समाचार एजेंसी के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी ऐसा ही कहा है. डीपीए के मुताबिक, बाइडेन ने जी7 नेताओं के साथ बैठक में कहा, ‘ऐसे संकेत मिले हैं कि ये रॉकेट यूक्रेन की विमान भेदी मिसाइल थी.’

ये भी पढ़ें- पोलैंड में हुए मिसाइल हमले पर बाइडन का बड़ा बयान, कहा- रूस ने दागी हो इसकी संभावना कम

उधर पोलैंड के राष्ट्रपति ने कहा है कि मिसाइल का गिरना ‘जानबूझकर किया गया हमला नहीं बल्कि एक दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना’ प्रतीत होती है. उधर रूस ने भी साफ पर तौर कहा है कि उसके सैनिकों द्वारा उस क्षेत्र में कोई मिसाइल अटैक नहीं किया गया.

ये भी पढ़ें- क्या पोलैंड पर यूक्रेन ने दागी मिसाइल? नाटो को युद्ध में झोंकने की थी कोई चाल!

READ More...  वैज्ञानिकों ने 'दुनिया की पहली गर्भवती' ममी का बनाया चेहरा, 2 हजार साल पहले हुई थी मौत

रूसी सेना पर जताया गया था शक
इस पहले खबर आई थी कि पोलैंड पर गिरा मिसाइल रूसी सेना ने दागा था. ऐसे में इससे रूस-युक्रेन युद्ध के और भीषण होने की आशंका जताई जा रही. दरअसल पोलैंड नाटो का सदस्य देश है. इस संगठन की संधि के मुताबिक, किसी भी सदस्य देश पर जाने-अनजाने में हुआ हमला बड़े युद्ध का सूचक होगा. नाटो संधि के अनुच्छेद 5 में साफ तौर पर कहा गया है कि किसी एक देश पर हमला सभी सदस्यों देशों के खिलाफ हमला है.

ऐसे में इस जंग में अगर नाटो के सदस्य देश भी शामिल हो जाते हैं तो रूस और यूरोप के पश्चिमी देशों के बीच अस्तित्व की होड़ शुरू हो सकती है और कई लोग इसे तीसरी विश्व युद्ध की आहट की तरह देख रहे थे. हालांकि यह ताज़ा जानकारी इन आशंकाओं को थोड़ा कमजोर जरूर कर देती है.

Tags: Missile, Poland, Russia ukraine war

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)