e0a4aee0a4bee0a4b2e0a4a6e0a580e0a4b5 e0a4aee0a587e0a482 e0a486e0a497 e0a4b2e0a497e0a4a8e0a587 e0a4b8e0a587 e0a4a6e0a4b0e0a58de0a4a6
e0a4aee0a4bee0a4b2e0a4a6e0a580e0a4b5 e0a4aee0a587e0a482 e0a486e0a497 e0a4b2e0a497e0a4a8e0a587 e0a4b8e0a587 e0a4a6e0a4b0e0a58de0a4a6 1

माले: मालदीव की राजधानी माले से एक बुरी खबर आई है. माले में विदेशी श्रमिकों के लिए बने आवासों में आज यानी गुरुवार को भीषण आग लग गई, जिसमें 10 लोगों जिंदा जलकर मौत हो गई. इस हादसे में मरने वाले 10 लोगों में 9 भारतयी वर्कर्स शामिल हैं, वहीं एक अन्य मृतक बांग्लादेश का रहने वाला था. आग लगने की इस घटना में अभी कुछ लोग घायल भी हुए हैं.

अधिकारियों ने कहा कि आग में नष्ट हुई एक इमारत की ऊपरी मंजिल से 10 शव बरामद किए गए. बताया गया कि इस इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर एक गैरेज था और उसी में आग लगने के बाद पूरी इमारत इसके चटेप में आ गई और देखती ही देखते आग का गुब्बार आसमान में उठने लगा और चारों ओर चीख-पुकार मच गई. अधिकारियों ने कहा कि मृतकों में 9 भारतीय और एक बांग्लादेशी शामिल है.

दमकल सेवा के एक अधिकारी ने बताया कि इस आग को बुझाने में लगभग चार घंटे तक मशक्कत करनी पड़ी. इस बीच मालदीव में भारतीय उच्च कमान ने इस घटना शोक जताया और कहा कि हम माले में दुखद आग की घटना से बहुत दुखी हैं, जिसमें भारतीय नागरिकों सहित कई लोगों की जान चली गई है. हम मालदीव के अधिकारियों के साथ निकट संपर्क में हैं.

इतना ही नहीं, इंडियन हाई कमांड ने ट्विटर पर जारी बयान में एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. इसमें बताया गया है किसी भी तरह की मदद के लिए इन दो +9607361452 ; +9607790701 नंबरों पर संपर्क किया जा सकता है. वहीं, मालदीव के राजनीतिक दलों ने विदेशी श्रमिकों के लिए स्थितियों की आलोचना की है.

READ More...  रूस के साथ जंग में जूझ रही यूक्रेनी सेना ने जब एक तोते को बचाया, जानें पूरा मामला

Tags: Fire, Maldives

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)