e0a4aee0a581e0a482e0a4ace0a488e0a483 e0a4aee0a4bee0a482 e0a495e0a587 e0a4b8e0a4bee0a4a5 e0a4b8e0a58de0a49fe0a587e0a4b6e0a4a8 e0a4aa
e0a4aee0a581e0a482e0a4ace0a488e0a483 e0a4aee0a4bee0a482 e0a495e0a587 e0a4b8e0a4bee0a4a5 e0a4b8e0a58de0a49fe0a587e0a4b6e0a4a8 e0a4aa 1

ठाणे. महाराष्ट्र के ठाणे इलाके में पनवेल रेलवे स्टेशन के पास से अगवा किए गए दो साल के बच्चे को 12 घंटे के भीतर बचा लिया गया. पुलिस ने सकुशल बच्चे को बरामद किया और उसके मा.ता-पिता को सुरक्षित सौंप दिया. नवी मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को इस घटना से संबंधित जानकारी दी. पनवेल तालुका पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक रवींद्र दौंडकर ने बताया कि गुरुवार को एक महिला ने बच्चे का अपहरण कर लिया और बच्चे को भांगरवाड़ी ले गई. साथ ही उन्होंने बताया ‘एक गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए, हम भांगरवाड़ी गांव पहुंचे और महिला को गिरफ्तार किया और बच्चे को बचा लिया. आरोपित महिला ने पूछताछ के दौरान बताया कि बच्चा अकेला था इसलिए उसे उठाया था. लेकिन हमें घटना के बारे में संदेह है, जांच चल रही है’.

फ्री प्रेस जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक रवींद्र दौंडकर ने कहा कि तलोजा पुलिस स्टेशन में उनके समकक्ष जितेंद्र सोनवणे ने उन्हें सूचित किया था कि एक महिला अपहृत लड़के के साथ भांगरवाड़ी गांव गई थी. यह गांव पनवेल तालुका पुलिस के अधिकार क्षेत्र में आता है. उसने महिला का मोबाइल नंबर भी दिया. मोबाइल नंबर के तकनीकी विश्लेषण के बाद, पनवेल तालुका पुलिस ने महिला को भांगरवाड़ी में उसकी बहन के घर का पता लगाया और लड़के को बचाया. दौंडकर ने कहा कि 35 वर्षीय महिला ने 16 जून को सुबह 5 से 6 बजे के बीच पनवेल रेलवे स्टेशन के टिकट बुकिंग क्षेत्र से लड़के का अपहरण कर लिया था. इसके बाद उसे तलोजा के ओवे गांव में अपने चचेरे भाई के घर और बाद में अपनी बहन के घर भांगरवाड़ी ले गई.

READ More...  Kisan Andolan: बैठक में नहीं बनती दिख रही बात, किसान फिर अड़े

पुलिस अधिकारी दौंडकर ने कहा, ‘पूछताछ के दौरान आरोपी महिला ने कहा कि उसने रेलवे स्टेशन पर बच्चे को अकेले घूमते हुए पाया था और इसलिए वह उसे अपने साथ ले गई. हालांकि, बच्चे की मां ने पुलिस को सूचित किया कि आरोपी महिला एक रात पहले उनके पास सोई थी और भोर में बच्चे को लेकर भाग गई थी. जागने के बाद जब पीड़ित महिला ने अपने बच्चे को आसपास नहीं पाया तो पनवेल रेलवे थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. पुलिस के मुताबिक आरोपी महिला के पहले से ही दो बच्चे हैं और वह अपने पति से अलग हो चुकी है. जोन 1 के डीसीपी विवेक पानसरे ने कहा कि जांच के बाद ही, महिला ने लड़के का अपहरण करने के सही कारणों का पता लगाया जा सकता है. पनवेल रेलवे पुलिस द्वारा आगे की जांच की जा रही है. पनवेल रेलवे पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि वे आरोपी को कल्याण कोर्ट ले गए थे.

Tags: Maharashtra, Mumbai police

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)