e0a4aee0a587e0a4b0e0a580 e0a49ce0a4bee0a4a8 e0a4b2e0a587e0a4a8e0a4be e0a49ae0a4bee0a4b9e0a4a4e0a587 e0a4b9e0a588e0a482
e0a4aee0a587e0a4b0e0a580 e0a49ce0a4bee0a4a8 e0a4b2e0a587e0a4a8e0a4be e0a49ae0a4bee0a4b9e0a4a4e0a587 e0a4b9e0a588e0a482 1

भोपाल. शराब और नशा दोनों देश को बर्बाद कर रहे हैं. शराब को बांटने का काम सरकार कर रही है. सरकार पहले अपनी वितरण प्रणाली को ठीक करे. साथ ही जागरूकता अभियान चलाए. यह बातें मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने बालाघाट में मीडिया से चर्चा के दौरान कहीं. बता दे कि पूर्व मुख्यमंत्री शुक्रवार को दो दिवसीय दौरे पर बालाघाट पहुंची हैं.

दरअसल, अपने तेज बयानों के लिए पहचाने जाने वाली पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने सरकार की शराब वितरण प्रणाली पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सरकार नियंत्रित वितरण प्रणाली बनाए. धार्मिक स्थल, शिक्षा, महिलाओं के जमावड़े,मजदूरों की बस्ती से शराब दुकानें आधा किलोमीटर दूर होनी चाहिए और आहते बंद होने चाहिए. अगर इसमें सरकार को राजस्व का घाटा हो जाए तो सह लेना चाहिए और भी कई तरीके हैं राजस्व प्राप्ति के.

गुजरात और बिहार में शराबबंदी को लेकर किए गए सवाल पर उमा भारती ने कहा कि सहयोग था कि दोनों राज्य हमारे थे. एनडीए का था बिहार और गुजरात बीजेपी का. मेरे अंदर तो फितूर ये है कि शराब नाम की चीज देश में होनी ही नहीं चाहिए, लेकिन सरकार पहल करे. सरकार की वितरण प्रणाली में खामियां है और शिवराज जी ने स्वीकार किया है, इसलिए मैं शिवराज जी से बहुत प्रभावित हूं और वे बड़ा दिल रखने वाले व्यक्ति हैं.

आपके शहर से (भोपाल)

मध्य प्रदेश
भोपाल

मध्य प्रदेश
भोपाल

तीन माफिया मेरे पीछे पड़े हैं-उमा

पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने जहरीली शराब विक्रय करने वालो पर निशाना साधते हुए कहा कि जहरीली शराब बनाने वाले माफिया है जो कि पुलिस व प्रशासन,नेताओ के संरक्षण में कार्य करती है. तीन महादैत्य दैत्य हैं. शराब माफिया,खनन माफिया,पावर जनरेशन माफिया तीनों मिलकर देश को निगलने की तैयारी कर रहे है. तीनों माफिया मेरे पीछे इस पड़ गए है कि मेरी जिंदगी ले जाएंगे, लेकिन मैं डट कर खड़ी हूं. मैं इनसे कोई समझौता नहीं करने वाली हूं. वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने मेरी बात को सुना लेकिन शराब को राजस्व का एक आधार बनाना तो ऐसे ही है, जैसे मां बच्चे को खून पीकर जिंदा रहना चाहती हो. सरकार को शराब के राजस्व के आधार पर जीवित नही रहना चाहिए. मध्यप्रदेश मॉडल स्टेट जल्द ही बन जाएगा.

READ More...  विपक्षी नेताओं के दावों पर बोले उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, महाराष्ट्र में कोई 'सुपर सीएम' नहीं है

Tags: CM Madhya Pradesh MP News, Illegal liquor, Uma bharti

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)