e0a4afe0a582e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a4b8e0a587 e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a49be0a4bee0a4a4e0a58de0a4b0e0a58b
e0a4afe0a582e0a495e0a58de0a4b0e0a587e0a4a8 e0a4b8e0a587 e0a4ade0a4bee0a4b0e0a4a4e0a580e0a4af e0a49be0a4bee0a4a4e0a58de0a4b0e0a58b 1

इंदौर. भारतीय मूल के लोगों की भारत और विदेशों में बेहतरीन उपलब्धियों को नवाजने के लिए मध्य प्रदेश में मंगलवार को प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार 2023 (Pravasi Bharatiya Samman Awards 2023) का आयोजन किया जाएगा. पिछले साल ऑपरेशन गंगा (Operation Ganga) के दौरान यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों की मदद करने वाले पोलैंड के व्यवसायी अमित कैलाश चंद्र लाठ को व्यवसाय/सामुदायिक कल्याण कैटेगिरी के लिए चुना गया है. अमित लाठ, यूरोप-इंडिया चैंबर ऑफ कॉमर्स, सेंट्रल-ईस्ट यूरोप चैप्टर के निदेशक भी हैं. उन्होंने यूक्रेन में फंसे भारतीयों को बचाने के लिए सरकार के ऑपरेशन गंगा मिशन में अग्रणी और बेहतरीन भूमिका अदा की थी और उन्हें पोलैंड से वापस लाने में मदद की थी.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के 24 फरवरी 2021 को यूक्रेन में विशेष सैन्य अभियान घोषित करने के बाद संघर्ष से बचने की कोशिश कर रहे हजारों भारतीय छात्रों के लिए अमित लाठ एक प्रकाश स्तंभ के रूप में उभरे थे. न्यूज एजेंसी एएनआई से एक साक्षात्कार में अमित लाठ ने कहा कि उन्हें राष्ट्रपति से पुरस्कार प्राप्त करने का सौभाग्य मिला और आज भारत और पोलैंड के संबंध अलग स्तर पर पहुंच गए हैं.

ये भी पढ़ें- अब सेना में शामिल होंगे ‘चूहे,’ DRDO का ये प्रोजेक्ट दुश्मनों के लिए बन जाएगा काल; जानें डिटेल

आपके शहर से (इंदौर)

मध्य प्रदेश
इंदौर

मध्य प्रदेश
इंदौर

लाठ ने कहा, ये न सिर्फ हमारे परिवार बल्कि पोलैंड और यूरोप में पूरे भारतीय समुदाय के लिए एक महान सम्मान और सौभाग्य की बात है क्योंकि पोलैंड-भारत के संबंध अभी एक अलग स्तर पर हैं और यह पुरस्कार मिलना भारत और पोलैंड को और करीब लाने और मजबूत बनाने जैसा है.

READ More...  दिल्ली में मौसम साफ, कश्मीर में बारिश, हिमाचल में बर्फबारी, जानिए मौसम विभाग का अनुमान

‘भारत सरकार की महान पहल थी ऑपरेशन गंगा’
यूक्रेन, पोलैंड में भारतीय दूतावास और छात्रों को वहां से निकालने और उनके अस्थायी प्रवास के लिए समन्वय कैसे किया, इस पर बात करते हुए, अमित ने कहा कि एक भारतीय प्रवासी के रूप में, हमें इसमें एक साथ आने की जरूरत है और इसलिए हमने इसे और अधिक सफल बनाने का सुनिश्चित किया.

लाठ ने कहा, “ऑपरेशन गंगा भारत सरकार की एक महान पहल थी. जैसा कि आप जानते हैं कि 24 फरवरी को जब यह सब शुरू हुआ, भारत सरकार ने भारतीय छात्रों को निकालने का फैसला किया और जब हम उनके रहने के लिए स्थानों की खोज कर रहे थे, भारतीय दूतावास ने मुझसे मदद मांगने और विभिन्न विकल्पों को देखने के लिए संपर्क किया जहां हम इन छात्रों को रहने के लिए जगह दे सकते हैं और दो-तीन दिनों के बाद हमने महसूस किया कि एक भारतीय समुदाय के रूप में हमें इसमें एक साथ शामिल होने की जरूरत है. इसलिए, हमने इसे और अधिक सफल बनाने का सुनिश्चित किया.”

उन्होंने कहा, “निश्चित रूप से, पूरे भारतीय प्रवासी, बहुत सारे व्यवसायी अपने व्यवसायों को छोड़कर घर वापस आने वाले बच्चों की मदद करने और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इस ऑपरेशन में शामिल हो गए.”

विभिन्न देशों में भारतीय प्रवासियों की भूमिका पर आगे बोलते हुए, अमित ने कहा कि यह ऑपरेशन इस बात का एक बहुत अच्छा उदाहरण है कि कैसे विदेशों में रहने वाले भारतीय हर स्थिति में अहम भूमिका निभाते हैं.  लाठ ने आगे कहा, “ऑपरेशन गंगा इस बात का एक बहुत अच्छा उदाहरण है कि कैसे संकट हो या कुछ भी भारतीय प्रवासियों ने बहुत सक्रिय भूमिका निभाई है. वे इसे एक राज्य के रूप में नहीं देखते हैं. वे इसे एक देश के रूप में देखते हैं. हम सब एक साथ हैं और भारतीय डायस्पोरा एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. और मुझे लगता है कि यह एक महान अवसर है. मुझे लगता है प्रवासी भारतीय दिवस वैश्विक भारतीयों से मिलने और अपने विचार व्यक्त करने के लिए सही मंच है.”

READ More...  अमेरिका में अब अवैध गर्भपात पर अधिकतम 15 साल की जेल, भारत में क्या है इससे जुड़ा कानून और सजा

प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार (पीबीएसए) प्रवासी भारतीयों को दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है. ये पुरस्कार प्रवासी भारतीय दिवस समारोह के समापन सत्र में पीबीडी सम्मेलन में भारत के राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किए जाएंगे. पुरस्कार विजेता विभिन्न क्षेत्रों में डायस्पोरा द्वारा प्राप्त उत्कृष्टता का प्रतिनिधित्व करते हैं.

Tags: Indore news, Poland, Ukraine

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)