e0a4b0e0a4bee0a49ce0a4b8e0a58de0a4a5e0a4bee0a4a8 e0a487e0a4b2e0a4bee0a49c e0a495e0a587 e0a4a8e0a4bee0a4ae e0a4aae0a4b0 e0a4aee0a4be
e0a4b0e0a4bee0a49ce0a4b8e0a58de0a4a5e0a4bee0a4a8 e0a487e0a4b2e0a4bee0a49c e0a495e0a587 e0a4a8e0a4bee0a4ae e0a4aae0a4b0 e0a4aee0a4be 1

श्रीगंगानगर. भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर बसे श्रीगंगानगर जिले में इलाज के नाम पर अंधविश्वास का दिल को दहला देने वाला मामला (Heart wrenching case of superstition) सामने आया है. यहां कुछ बाबाओं ने इलाज के नाम पर मासूम बच्चे को गर्दन तक तपती रेत (Hot sand ) में दबा दिया. पीड़ित मासूम चल पाने में असमर्थ है. कुछ जागरुक लोगों ने इन बाबाओं की करतूत को अपने कैमरे में कैद कर लिया. बाद इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया वायरल कर दिया. श्रीगंगानगर जिले में दो दिन पहले ही कथित इलाज के नाम पर दो युवतियों को चिमटों और सरियों से दागने का मामला सामने आया था.

जानकारी के अनुसार ताजा मामला सूरतगढ़ में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 62 के नजदीक पिपेरन क्षेत्र का बताया जा रहा है. सोशल मीडिया में वायरल हो रहे इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि एक रेतीले धोरे पर 2 बाबा एक नन्हे मासूम को गर्दन तक तपती रेत में दबाए बैठे हैं. कथित बाबाओं के अनुसार हरियाणा क्षेत्र का यह बच्चा चलने फिरने में असमर्थ है. इसे उसी के परिजनों ने उनको इलाज के लिए सौंपा है. वे यहां इसका इलाज कर रहे हैं.

जागरुक लोगों ने मासूम को रेत से बाहर निकलवाया
रविवार रात को इसकी सूचना मिलने कुछ जागरुक लोग पिपेरन क्षेत्र के इस स्थान पर पहुंचे. उन्होंने इन बाबाओं से इलाज के नाम पर इस मासूम को दी जा रही यातनाओं को लेकर सवाल जवाब किए. बाद में वीडियो बना रहे लोगों ने इस मासूम को तपती रेत से बाहर निकलवाया और उसके परिजनों से बात की. बातचीत में परिजन ने उसे अपनी सहमति से बाबाओं को सुपुर्द किये जाने की बात कही.

READ More...  [email protected] : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय होने के गौरव को आत्मा में बसा दिया-तेजस्वी सूर्या

पुलिस ने बाबाओं और मासूम के परिजनों को थाने में तलब किया
घटना की जानकारी मिलने पर पिपेरन सरपंच भी मौके पर पहुंचे और पुलिस को घटना की जानकारी दी. उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने इन कथित बाबाओं को पाबंद करते हुए मासूम के परिजनों समेत सभी को सोमवार थाने में तलब किया है. उल्लेखनीय है कि श्रीगंगानगर में बीमारियों के इलाज के लिये अंधविश्वास का यह कोई पहला मामला नहीं है. 2 दिन पहले भी अंधविश्वास के चलते कुछ तांत्रिकों ने दो बहनों को चिमटों से दाग दिया था.

Tags: Crime News, Rajasthan news, Sriganganagar news, Superstition

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)