e0a4b0e0a4bee0a4b7e0a58de0a49fe0a58de0a4b0e0a4aae0a4a4e0a4bf e0a49ae0a581e0a4a8e0a4bee0a4b5e0a483 nda e0a4aae0a58de0a4b0e0a4a4e0a58d
e0a4b0e0a4bee0a4b7e0a58de0a49fe0a58de0a4b0e0a4aae0a4a4e0a4bf e0a49ae0a581e0a4a8e0a4bee0a4b5e0a483 nda e0a4aae0a58de0a4b0e0a4a4e0a58d 1

नई दिल्लीः एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित होने के अगले ही दिन द्रौपदी मुर्मू को जेड प्लस सिक्योरिटी उपलब्ध करा दी गई है. आदिवासी नेता और झारखंड की पूर्व राज्यपाल मुर्मू की सुरक्षा में केंद्र सरकार के निर्देश पर सीआरपीएफ के कमांडो अब 24 घंटे तैनात रहेंगे. बुधवार को मुर्मू ओडिशा के एक शिव मंदिर में गईं और पूजा अर्चना की. इस दौरान उन्होंने मंदिर परिसर में झाड़ू भी लगाई.

बीजेपी की अगुआई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने मंगलवार को द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया था. इससे कुछ घंटे पहले ही विपक्षी दलों की तरफ से यशवंत सिन्हा को प्रत्याशी बनाए जाने का ऐलान किया गया था. यशवंत सिन्हा पहले बीजेपी के ही नेता थे, लेकिन बाद में उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस जॉइन कर ली. यशवंत सिन्हा के प्रचार को धार देने के लिए विपक्षी दलों की तरफ से एक कैंपेन कमिटी बनाई गई है. इसकी पहली बैठक आज बुधवार को होगी.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 64 वर्षीय एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू बुधवार सुबह ओडिशा के मयूरभंज जिले में रायरंगपुर जगन्नाथ मंदिर पहुंचीं और पूजा अर्चना की. उन्होंने झाड़ू लेकर मंदिर परिसर में साफ सफाई भी की. द्रौपदी मुर्मू का जन्म आदिवासी जिले मयूरभंज के रायरंगपुर गांव में ही हुआ था. वह आदिवासी पूजा स्थल जहिरा भी गईं.


इससे पहले, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने द्रौपदी मुर्मू को वीआईपी प्रोटेक्शन देने का निर्देश जारी किया. मुर्मू को संभावित खतरे की आशंका को देखते हुए उन्हें जेड प्लस सिक्योरिटी देने का फैसला किया गया है. अधिकारियों के मुताबिक, अब सीआरपीएफ के 14 से 16 जवान हर वक्त उनकी सुरक्षा में तैनात रहेंगे. रायरंगपुर में मुर्मू के घर की भी सुरक्षा अब यही संभालेंगे.

READ More...  देश की सेनाओं में 'होश और जोश' का अच्छा मिश्रण ​'अग्निपथ योजना' का लक्ष्य: DMA

द्रौपदी मुर्मू की उम्मीदवारी घोषित होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा था, “द्रौपदी मुर्मू जी ने अपना जीवन समाज की सेवा और गरीबों, दलितों के साथ-साथ हाशिए के लोगों को सशक्त बनाने के लिए समर्पित किया है. उनके पास समृद्ध प्रशासनिक अनुभव है. उनका कार्यकाल उत्कृष्ट रहा है. मुझे विश्वास है कि वह हमारे देश के लिए एक महान राष्ट्रपति सिद्ध होंगी.” द्रौपदी मुर्मू ने बताया था कि उन्हें टीवी के जरिये जानकारी मिली कि उन्हें राजग की ओर से देश के सर्वोच्च पद का प्रत्याशी घोषित किया गया है. मुझे इस अवसर की उम्मीद नहीं थी. मैं आश्चर्यचकित और खुश हूं. मयूरभंज जिले से आने वाली एक आदिवासी महिला के रूप में मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे इस पद का उम्मीदवार बनाया जाएगा.

Tags: Draupadi murmu, President of India, Rashtrapati Chunav

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)