e0a4b0e0a582e0a4b8 e0a4a8e0a587 e0a495e0a4b9e0a4be e0a4aae0a58be0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a4aee0a4bfe0a4b8e0a4bee0a487e0a4b2 e0a485
e0a4b0e0a582e0a4b8 e0a4a8e0a587 e0a495e0a4b9e0a4be e0a4aae0a58be0a4b2e0a588e0a482e0a4a1 e0a4aee0a4bfe0a4b8e0a4bee0a487e0a4b2 e0a485 1

हाइलाइट्स

रूस ने कहा की नाटो को युद्ध में लाना चाहते हैं यूक्रेन और पोलैंड
ज़ेलेंस्की ने पोलैंड में विस्फोट के तुरंत बाद रूस पर गोलाबारी का आरोप लगाया था
अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार पोलैंड में यूक्रेन की मिसाइल गिरी थी

मास्को. पोलैंड में रूस की मिसाइल गिरने से 2 लोगों की मौत के बाद से लगातार नाटो और रूस के बीच युद्ध की आशंका बनी हुई है. रूस के संयुक्त राष्ट्र दूत वासिली नेबेंज़्या ने बुधवार को कहा कि वारसॉ और कीव के बयानों ने पोलैंड में मिसाइल घटना पर सीधे रूस-नाटो टकराव को बढ़ाने का प्रयास किया है. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक बैठक में कहा कि यदि यह बैठक निर्धारित नहीं की गई होती, तो रूस और नाटो के बीच सीधे संघर्ष को भड़काने के लिए यूक्रेन और पोलैंड के प्रयासों पर चर्चा करने के लिए इसे बुलाना पड़ता. इन दोनों देशों के नेतृत्व द्वारा दिए गए बिल्कुल गैर-जिम्मेदाराना बयानों को आसानी से नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है.

युद्ध कराना चाहता है यूक्रेन?
नेबेंज़्या ने कहा कि यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर ज़ेलेंस्की ने पोलैंड में विस्फोट के तुरंत बाद रूस पर गोलाबारी का आरोप लगाया. उन्होंने UN के सदस्यों से कहा कि ये बयान एक ऐसे व्यक्ति से आया है जो यह जानकारी प्राप्त करने में असफल नहीं हो सकता था कि यह एक वायु रक्षा प्रणाली द्वारा दागी गई यूक्रेनी मिसाइलें थीं जो पोलैंड में जाकर गिरी. वासिली नेबेंज़्या ने जोर देते हुए कहा कि इसका मतलब है कि यह केवल जानबूझकर गलत सूचना नहीं थी बल्कि नाटो को उकसाने का एक सचेत प्रयास था. नेबेंज़्या के अनुसार यूक्रेन किसी न किसी बहाने से नाटो को युद्ध में लाना चाहता है. उन्होंने कहा कि विस्फोट के दृश्य की पहली तस्वीरों ने यह स्पष्ट कर दिया कि यह एक यूक्रेनी वायु रक्षा मिसाइल थी जो पोलैंड में गिरी.

READ More...  रूस के खिलाफ परमाणु हथियारों का इस्तेमाल नहीं करेगा फ्रांसः राष्ट्रपति मैक्रों का ऐलान

अमेरिकी अधिकारियों ने बताया यूक्रेनी मिसाइल
एसोसिएटेड प्रेस ने बुधवार को अमेरिकी अधिकारियों का हवाला देते हुए बताया कि शुरुआती निष्कर्षों से पता चलता है कि पोलैंड पर मार करने वाली मिसाइल को यूक्रेनी सेना द्वारा एक आने वाली रूसी मिसाइल पर दागा गया था. इससे पहले भी बाइडन ऐसा कह चुके थे कि संभव है कि यह मिसाइल रूस द्वारा नहीं दागी गई हो. वहीं न्यूज़ 18 ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि हो सकता है कि रूसी मिसाइल को रोकने के लिए दागी गई मिसाइल मिस फायर होकर पोलैंड में जा गिरी हो. क्यूंकि यूक्रेन के पास मिसाइल का एक बड़ा हिस्सा भी रूस निर्मित है तो संभावना थी कि पोलैंड को मिला रूसी मिसाइल का मलबा उसी वजह से रहा हो.

Tags: Poland, Russia, Ukraine, United nations

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)