e0a4b0e0a582e0a4b8 e0a4a8e0a587 e0a4a8e0a4bee0a49fe0a58b e0a495e0a58b e0a4a7e0a4aee0a495e0a4bee0a4afe0a4be e0a495e0a4b9e0a4be e0a495
e0a4b0e0a582e0a4b8 e0a4a8e0a587 e0a4a8e0a4bee0a49fe0a58b e0a495e0a58b e0a4a7e0a4aee0a495e0a4bee0a4afe0a4be e0a495e0a4b9e0a4be e0a495 1

मास्‍को.  यूक्रेन पर आक्रमण के बाद से रूस (Russia ) लगातार पश्चिमी देशों के निशाने पर है. अमेरिका, ब्रिटेन और नाटो (NATO) देशों ने रूस पर कई प्रतिबंध लगा रखे हैं तो वे सभी यूक्रेन की मदद भी कर रहे हैं. रूस और नाटो देशों में बढ़े तनाव के बीच क्रीमिया को लेकर पूर्व राष्‍ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव (Dmitry Medvedev) ने कहा है कि क्रीमिया में घुसपैठ की कोशिश से तीसरा विश्व युद्ध शुरू हो जाएगा. ऐसा करना सीधे रूस के खिलाफ युद्ध माना जाएगा. उन्‍होंने कहा कि रूस ने हर परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर रखी है और घुसपैठ की कोशिश करने वालों को करारा जवाब दिया जाएगा.

एक वेबसाइट से ऑनलाइन चर्चा में मेदवेदेव ने कहा है कि क्रीमिया, रूस का ही एक हिस्‍सा है और यह हमेशा रूस का ही हिस्‍सा रहेगा. ऐसे में कोई गलत कोशिश सीधे रूस के खिलाफ युद्ध की कार्रवाई मानी जाएगी और उसका जवाब दिया जाएगा. उन्‍होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर नाटो गठबंधन द्वारा क्रीमिया पर किसी तरह की घुसपैठ की कोशिश होती है तो यह तीसरे विश्व युद्ध शुरुआत होगी. रूस ने यूक्रेन के क्रीमिया इलाके पर साल 2014 में जबरन कब्‍जा कर लिया था.

हर परिस्थिति से निपटने की पूरी तैयारी 

रूसी सुरक्षा परिषद के उपाध्‍यक्ष दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूस ने युद्ध की पूरी तैयारी कर रखी है और उसे जवाबी कार्रवाई में देरी नहीं होगी. अगर फिनलैंड और स्‍वीडन जैसे देश नाटो में शामिल हो जाते हैं तो रूस अपनी सीमाओं को और मजबूत करेगा. अपने दुश्‍मनों पर जवाबी कार्रवाई के लिए इस्‍कंदर हाइपरसोनिक मिसाइलों को सीमा पर स्‍थापित किया जा सकता है.

READ More...  जेलेंस्की ने पुतिन को बताया आतंकी, पढ़ें यूक्रेन जंग के लेटेस्ट अपडेट

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

FIRST PUBLISHED : June 28, 2022, 22:20 IST

Article Credite: Original Source(, All rights reserve)